Education

तंबाकू क्या है? तंबाकू पर किस मुगल शासक ने प्रतिबंध लगाया था?

Tambaku Par Kis Mugal Shasak Ne Pratibandh Lagaya Tha

दोस्तों, तंबाकू एक ऐसा तत्व या पदार्थ है जिसका सेवन हमेशा हानि ही पहुंचाता है। तंबाकू के कारण बहुत से परिवार उजड़ चुके हैं, लेकिन फिर भी आज के समय लोग तंबाकू लेना बंद नहीं करते। लोग ऐसा मानते हैं और हो सकता है इसमें कुछ सच्चाई भी हो कि, मुगल शासक भारतीय इतिहास के सबसे क्रूर शासकों में शामिल थे।

लेकिन तंबाकू इतना खतरनाक पदार्थ है कि इस पर मुगल शासकों ने भी प्रतिबंध लगाया था। क्या आप जानते हैं कि Tambaku Par Kis Mugal Shasak Ne Pratibandh Lagaya Tha?

यदि आप नहीं जानते तो आज हम आपको इसके बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताएंगे कि Tambaku Par Kis Mugal Shasak Ne Pratibandh Lagaya Tha और उसके बारे में भी आपको जानकारी प्रदान करेंगे। तो चलिए शुरू करते हैं-

तंबाकू क्या है? | tambaku kya hai

तंबाकू मूल रूप से एक तंबाकू नमक पेड़ की पत्तियां होती है। यह पत्तियां सुखाकर इसके नशे किए जाते हैं। यह एक नशीला पदार्थ है जिसका उपयोग करके आज के समय लोग बीमारियां प्राप्त करते हैं, और सरकार राजस्व प्राप्त करती है।

तंबाकू कहां पाया जाता है? | tambaku kaha paya jata hai

tambaku kaha paya jata hai

तंबाकू को मीठा जहर भी कहा जाता है, यह निकोटियाना प्रजाति के पेड़ से प्राप्त होता है। इसके लिए इसके पत्तों को सुबह का नशा किया जाता है। यह धीमे जहर की तरह आदमी की जान ले लेता है। लेकिन आज के समय तंबाकू का उपयोग करने से लोगों को कई प्रकार के फायदे और सरकार को हर प्रकार के फायदे मिलते हैं।

इसके कारण तंबाकू के द्वारा रोगों के इलाज करने पर अस्पताल को भी फायदा होता है। तंबाकू के उपयोग से जीवन शक्ति में कमी आती है, जिंदगी कम हो जाती है लेकिन फिर भी लोग इस किल्लत को नहीं छोड़ पाते हैं।

अंत में यह तंबाकू किसी भी व्यक्ति को विनाश के गड्ढे में फेंक देता है। तंबाकू के सेवन से कैंसर जैसी बीमारियां सबसे अधिक पैदा होती है।

तंबाकू के क्या उपयोग है? | tambaku ke kya upyog hote hai

तंबाकू का सेवन करने के केवल नुकसान की नहीं होते हैं बल्कि कुछ फायदे भी होते हैं, और यह सभी फायदे कुछ इस प्रकार से हैं:-

  1. तंबाकू का सेवन करने से अंडकोष की सूजन दूर होती है।
  2. तंबाकू का सेवन करने से दांतों का दर्द दूर होता है।
  3. दमा जैसी बीमारी ठीक हो सकती है।
  4. खांसी ठीक हो सकती है। लेकिन खांसी ठीक करने के लिए आपको तंबाकू का लगातार सेवन नहीं करना है।
  5. तंबाकू का सेवन करने से आपका बाल झड़ना खत्म हो सकता है।
  6. तंबाकू का सेवन करने से रतौंधी जैसी बीमारी दूर हो सकती है।
  7. तंबाकू कमर दर्द में मदद करता है।
  8. तंबाकू का सेवन करने से धनुष्टंकार रोग में लाभ मिलता है।
  9. तंबाकू का सेवन करने से गठिया रोग में लाभ मिलता है।
  10. पीलिया बच्चों के अंडकोष की सूजन, शरीर में सूजन, इन सभी में लाभ तंबाकू के सेवन से मिल सकता है।

तंबाकू किस प्रकार हानिकारक है? | tambaku kise prakar hanikarak hota hai

दोस्तों, तंबाकू के सेवन करने के फायदे भले ही ना लेकिन नुकसान बहुत सारे हैं। उन सभी नुक्सान को हम इस प्रकार से परिभाषित कर सकते हैं:-

  1. तंबाकू से विभिन्न प्रकार के रोग हो सकते हैं, जैसे कि मुंह में, गले में, फेफड़े में, कंठ की नली में, खाद्य नली में, मूत्राशय में, गुर्दा, पेनक्रियाज इन सभी में आपको कैंसर का सामना करना पड़ सकता है।
  2. तंबाकू के उपयोग से ब्रोंकाइटिस तथा  एमपी सिया  जेसी सांस की तकलीफ पैदा हो सकती है।
  3. यह ह्रदय और रक्त से संबंधित बीमारियों को तेजी से बढ़ाते हैं,
  4. जो लोग तंबाकू का सेवन करते हैं हार्ट अटैक की बीमारी होती है।
  5. तंबाकू के सेवन से पुरुषों में नपुंसकता बढ़ती है, और महिलाओं में जनन क्षमता में कमी आती है।
  6. तंबाकू का सेवन करने से सांस में बदबू और आंखों के आसपास झुर्रियां  पैदा हो जाती है।
  7. दोस्तों तंबाकू का सेवन करने से उस व्यक्ति के आसपास रहने वाले लोगों पर भी रोग की आशंका रहती है।
  8. तंबाकू का सेवन करने से या धूम्रपान करने से बच्चों में निमोनिया, स्वास्थ्य रोग, अस्थमा फेफड़ों में कमजोरी, धीमी स्वांस सम्बन्धी रोग हो सकते हैं।
  9. तंबाकू का एक बार सेवन करने से ऐसा कहा जाता है कि तकरीबन 14 मिनट की जाती है।
  10. तंबाकू का सेवन करने से फेफड़ों के कैंसर होने की आशंका बढ़ जाती है, तथा दिल का दौरा होने की आशंका दो से तीन गुना बढ़ जाती है।

तंबाकू पर किस मुगल शासक ने प्रतिबंध लगाया था? | Tambaku Par Kis Mugal Shasak Ne Pratibandh Lagaya Tha

दोस्तों, तंबाकू इतना खतरनाक पदार्थ है कि इस पर जहांगीर ने प्रतिबंध लगाया था। जहांगीर ने अपने शासनकाल में तंबाकू पर इसके खरीद-फरोख्त पर तथा तंबाकू के उपयोग पर भी प्रतिबंध लगा दिया था।

ऐसा कहा जाता है कि अकबर के शासनकाल के दौरान 16 शताब्दी के अंत में पुर्तगालियों के द्वारा तंबाकू की पेशकश मुगल दरबार में की गई थी, और तब से ही तंबाकू इतना लोकप्रिय हो गया था कि जहांगीर ने इसे प्रतिबंधित करने के लिए या प्रतिबंधित करने के लिए सन 1617 के पास 1  डिक्री पास करके तंबाकू पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाना पड़ा था।

आपको हम यह बता दे कि जहांगीर का असली नाम नूरुद्दीन मोहम्मद सलीम था  और यह अकबर के सबसे बड़े पुत्र थे, और मुगल शासक के चौथे वंशज थे। इन्होंने सन 1605 से लेकर के 1627 तक राज किया था तथा इनके पुत्रों में खुसरो मिर्ज़ा और खुर्रम शामिल थे। इन दोनों के मध्य मुगल सट्टा सील करने की होड़ मची और दोनों ने एक दूसरे को काटना शुरू कर दिया।

अंतिम विचार

मित्रों, आज के लेख में हमने आपको यह बताया है, कि तंबाकू क्या है, कहां पाया जाता है, और तंबाकू से क्या नुकसान होते हैं। इसके साथ हमने आपको यह भी बताया कि Tambaku Par Kis Mugal Shasak Ne Pratibandh Lagaya Tha.

हम आशा करते हैं कि आज का हमारा यह लेख पढ़ने के पश्चात आप यह जान पाएंगे कि Tambaku Par Kis Mugal Shasak Ne Pratibandh Lagaya Tha.

उम्मीद करते हैं आपको ये लेख पसंद आया हो यदि पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी अवश्य शेयर करें। यदि आपके मन में इस लेख से संबंधित कोई सवाल है जो आप हमसे पूछना चाहते हैं तो कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट कर के पूछ सकते हैं।

FAQ

तंबाकू से क्या बीमारी होती है?

यदि आपको धूम्रपान से संबंधित फेफड़ों की बीमारी है तो नए कोरोना वायरस के संपर्क में आने से अधिक जटिलताएं हो सकती हैं। दूसरों से 3-6 फीट यानी 1-2 मीटर की दूरी बनाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। तंबाकू उत्पादों का उपयोग करने के बाद भी अपने हाथ बार-बार धोएं।

तम्बाकू में क्या पाया जाता है?

तंबाकू में निकोटिन समेत 60 तरह के जहरीले पदार्थ होते हैं। बीड़ी, सिगरेट, गुटखा के माध्यम से यह रक्त में फेफड़ों तक पहुंचकर टार (जैविक रसायन) बन जाता है और उससे चिपक जाता है। यह फेफड़ों की कोशिकाओं की ऑक्सीजन लेने और कार्बन डाइऑक्साइड छोड़ने की क्षमता को कम करता है।

तंबाकू की खोज किसने की?

तम्बाकू की खोज सबसे पहले मेसोअमेरिका और दक्षिण अमेरिका के मूल निवासियों ने की थी और बाद में यूरोप और शेष विश्व में इसकी शुरुआत हुई। पुरातात्विक खोजों से संकेत मिलता है कि अमेरिका में मनुष्यों ने 12,300 साल पहले तंबाकू का उपयोग करना शुरू किया था, जो पहले के दस्तावेज की तुलना में हजारों साल पहले था।

Related Articles

Back to top button