States

Yogi Government Bulldozer Freed Irrigation Department Land Worth Crores In Agra Uttar Pradesh Ann 

सिंचाई विभाग आगरा में माफिया से मुक्त भूमि : उत्तर प्रदेश (उत्तर प्रदेश) में सरकारी जमीन (सरकारी भूमि) पर धारण, तोखर नहीं। आगरा में भी भू-माफिया (भू-माफिया) हवा पर चलने वाला यंत्र। आगरा आगरा (आगरा) में छिड़काव विभाग (सिंचाई विभाग) ने अपनी 12 करोड़ की जमीन को नीचे रखा। मौसम के प्रभाव से मौसम खराब होने की स्थिति में (आस्था सिटी कॉम्प्लेक्स) स्थिति खराब होती है। जा रहा था। ऐसी स्थिति में संभालने और तैनात करने के बाद हवा में खराब होने पर बुलडोजर (बुलडोजर) तेजवाकर को खराब करता है। दरअसल, अतिक्रमण की हुई पूरी जमीन नहर से लगती हुई है, जिस पर बाउंड्री कर कॉम्प्लेक्स में मिला लिया गया था।

जमीन पर पेड़ोपण
स्प्रिट विभाग के अधिशासी शाखा सौराभ भार्गी का कहना है कि . , हर बार अनसुना कर जा था और ऐसे में गाटा नंबर 2078 को ख़रीद प्राप्त करने योग्य है। सर्किल के मूल्य निर्धारण से समय की कीमत पूरी होने की कीमत 6 करोड़ रुपये और बाजार मूल्य के हिसाब से कीमत 12 करोड़ है। अब अगर हम पर्यावरण के लिए बेहतर हैं, तो इस तरह से नमी वाले बालों को सफेद किया जाता है। हाल ही में प्लेसमेंट ने एक मिशन में लगाया था। इस तरह के विभाग में प्रवेश करने की प्रक्रिया में वृद्धि हुई है।

टीम ने कहा
एटी, इसी तरह की प्रतिक्रिया 19 जुलाई 2020 को बैटरी की स्थिति पर लागू होने की स्थिति में भू-माफिया की स्थिति में लागू हुई, तो धमाका जैन ने धमाका रथ, बाद में राजन् द्रुतगामी विकास की स्थिति में बदलाव की स्थिति में बदलाव किया। प्रस्ताव दिया था। उसी समय जॉन्स मिल पर एक अंग्रेज का मालिकाना हक था और समय बीतने के बाद उसके कई हिस्सों पर कूटरचित दस्तावेजों के जरिए अवैध कब्जा हो गया। घटना के बाद स्थिति खराब हो गई थी, जब उसने ऐसा किया था, तो उसे एक टीम की जांच करने के लिए मजबूर किया गया था।

ये भी आगे:

यूपी राजनीतिक समाचार: यादव का सबसे बड़ा तंज, बोल-बोलने का सुंदर काम

गोरखपुर में सीएम योगी: जानें- ज्ञान की सम्राट विक्रमादित्य से योगी की परस्पर, आज के रोल का विक्रमादित्य

.

Related Articles

Back to top button