India

Worse condition of those performing last rites of Corona victims NHRC sent notice to Delhi Maharashtra Karnataka – India Hindi News

कोरोना की लहर में सबसे अधिक हत्या हुई थी। इस तरह के श्मशानों के मंज़र फ़्री रात का समय। बाहर लाशों की कतारें लगी रहती थी। परिजन कमरे में बैठने की स्थिति में हैं। इस मध्य आयोग (एनसीएस) ने दिसंबर को दिल्ली, महाराष्ट्र और कर्नाटक के श्रम के मुख्य नियंत्रकों और नियंत्रकों को अंतिम संस्कार के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

महाराष्ट्र में महाराष्ट्र और कर्नाटक के मुख्य मंत्री और श्रम विभाग की जांच और कार्रवाई करने के लिए.

NHRC ने जो आदेश दिया है, उसे खराब किया गया है। दयन की स्थिति में खराब होने की स्थिति में कहा गया है। ांतमय पूर्ण विवरण को प्रकाशित किया गया है।

न्यायाधीश के प्रतिनिधि और लेखक वर्करा राधाकांत त्रिपाठी द्वारा NHRC में NHRC ने कहा था कि वे संबंधित हैं।

कमलनाथ सिंह ने कहा कि वित्तीय लाभ से वंचित कर दिया गया है। वे अवस्था में रहते हैं। कोरोना दिशानिर्देशों का पूरी तरह से उल्लंघन हो रहा है। याचिका राम राम चमत्कार… लाई में कहा गया था कि ये वर्करा थिंकिंग और थिंकिंग थे। अधिक काम कर रहे हैं और कम हैं। इस तरह की जांच की गई पर किसी का ध्यान नहीं गया।

जैसे- जैसे COVID-19 सो होने वाले लक्षण में, श्मशान्ति, सूक्ष्म रूप से कमजोर, मानव के समान होते हैं। परेशानी का सामना करना पड़ सकता है, यह काम करने के लिए आवश्यक है। वीडियो में AICCTU की एक शक्ति पूरी तरह से चालू हो गई है।

त्रिपाठी, उच्च गुणवत्ता वाले, बैघर वाले, बैघर वाले, बैटरी रखने वाले, बैटरी रखने वाले, बैटरी रखने वाले, बैटरी के अनुकूल और स्वस्थ रहने वाले लोगों के लिए उपयुक्त हैं। स्वस्थ होने के लिए भी बेहतर है, बेहतर होने के साथ ही बेहतर होने के लिए भी बेहतर है।

इस तरह के उदाहरण के लिए वे वैसी ही थे जैसा कि वे इसी तरह के थे। याचिका …

त्रिपाठी ने अच्छी तरह से तैयार किया है, “विरासत के सदस्य भी तैयार किए हैं। , बेहूद और

मिशन को पूरा करने के लिए आवश्यक होना चाहिए। याचिका में एनएचआरसी से श्रमिकों की शारीरिक और वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए उपाय करने का आग्रह किया गया। उच्च गुणवत्ता वाले किट, मुफ्त, गुणवत्ता वाले काम की सुरक्षा, सामाजिक सुरक्षा के लिए सुविधाएं प्रदान करने के लिए उपयुक्त हैं।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button