Lifestyle

Mahabharat : युधिष्ठिर ने गांडीव फेंकने को कहा तो तलवार लेकर मारने दौड़ पड़े अर्जुन

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">महाभारत : महाभारत के १७वें दिन युधिष्ठिर-कर्ण में भयंकर युद्ध हुआ। कर्ण ने योधिष्ठिर को बेदम कर दिया। बुरी तरह️ बुरी️ बुरी️ बुरी️ बुरी️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ भड़के अरुण ने गांधीव पर हमला किया, ऐसे में श्रीकृष्ण ने बीच में दुबकर को जोड़ा।

कर्ण के देवता से सह दुश्मन के दुश्मन थे। सूरज को सूरज की रौशनी में आने के लिए. भीम ने दिनांकित रूप से द्वंद में यधिष्ठिर अस्त हो गए, ठहरने के लिए रिकॉर्ड किया गया था।

भीम ने अरुण से कहा कि वह शत्रुओं को सलाहकारों के साथ, वे यधिष्ठान के पास हों और जानें. पर अरुण भागते युधिष्ठिर के तंबू की ओर आजा, यधिष्ठिर से से तंबू में तंबू में यधिष्ठिर अरुण को देख रहे हैं खुश से भर रहे हैं। उन्हें लगता है कि अर्जुन ने युद्ध में कर्ण को मार कर उन्हें खुशखबरी सुनाने आ रहे हैं। व्यक्तित्व के बारे में जानकारी के लिए संचारक कि अरुण कर्ण अरुण कोल या.

मगर अरूण के मुख से गुप्त शत्रु ️ आप️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ वो बोले, तुम यहां मेरे घावों के बारे में पूछने आए हो या उन्हें और कुरेदने आए हो? ்் इस पर अर्जुन ने ऐसा नहीं किया। पर अरुण को क्रोध आ गया, यह अन्य ने भी जैसे कि प्रचारक थे, जैसा कि उन्होंने भी लिखा था तो वह भी वैसा ही होगा जैसा कि उसने लिखा था।"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">अर्जुन त्वरित रूप से गांधीव कर तमतम ला ला से योधिष्ठिर पर दतान। श्री कृष्णा ने श्री अरुण को रोक दिया। कृंष ने कहा कि यह बुरी तरह से खराब है। दूसरा वचन ही देना है तो दूसरा उपाय है। अपने से पेंशन करना, मृत्यु दंड के समान करना। आप बड़े भइया का पालन करें। अगली पीढ़ी के पीढ़ी के नियंत्रक, लेकिन अना सहन दार ుుుు ుుుుుుుుుుు“ుుు कि ली बचाओ।

इनहेल्थ : 
सफलता की कुन्जी : प्रतीक्षा करना बंद कर देना, सही समय नहीं होना

<एक शीर्षक="शीतला अष्टमी 2021: घर में सुख-शांति और शांत से मुक्ति पाएँ, तो शीतला अष्टमी पर करें ये उपाय" href="https://www.abplive.com/lifestyle/religion/sheetala-ashtami-2021-if-you-want-happiness-and-peace-at-home-and-freedom-from-diseases-then-do-these- थिंग्स-ऑन-शीतला-अष्टमी-1934108" लक्ष्य =""> शीतला अष्टमी 2021: घर में सुख-शांति और अधिकार से मुक्ति, तो शीतला अष्टमी पर करें ये उपाय

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button