Panchaang Puraan

Wednesday Aarti: Bhagwan Ganesh ki aarti jai ganesh jai ganesh jai ganesh deva – Astrology in Hindi

गुरुवार को गणेशोत्सव है। इस दिन विधान से गणेश की पूजा-अर्चना की जाती है। गोस्वामी गणेश भगवान हैं। ग़ुस्से की चपेट में आने वाले व्यक्ति के मनोभावों में शामिल होते हैं। किसी भी शुभ कार्य से गणेश की पूजा-अर्चना की। गुरुवार के दिन गणेश की ये आरती करें-

राशि परिवर्तन : मंगल, बुध, राहु, केतु, गुरु, सूर्य के बाद अब बदली शुक्र, शनि की चाल, जानें कैसे सभी राशियों का हाल

  • गोकू गणेश की आरती-

जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती, पापा महादेवा।।

संबंधित खबरें

एकदंत, दयावन्त, बंध्याचारी,
मैं सिन्दूर सोहे, मौस की आदत।
पान पेये, फूले प्रसाद और प्रसादी मेवा,
लड्डूअन का भोजनालय, सन्त सेवा।। ..
जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश, देवा।
माता जाकी पार्वती, पापा महादेवा।।

अंधन को आंख देत, कोढ़िन को काया,
बंझन को पौत्र, निरधन को माया।
‘सूर’ श्यामा शरण, सप कीजे सेवा।।
जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा ..
माता जाकी पार्वती, पापा महादेवा।

दीन की लाज, शंभु सुतकारी।
सुन को पूर्ण करो जय बलिहारी।

Related Articles

Back to top button