Panchaang Puraan

Vaishakh Purnima 2022 date time puja vidhi shubh muhrat – Astrology in Hindi – Vaishakh Purnima 2022 : वैशाख पूर्णिमा 16 मई को, नोट कर लें पूजा

हिंदू धर्म में दिनांक अधिक महत्व है. पूर्णिमा को पूरा होने पर ही। 16 मई वैशाख की तारीख तिथि है। थाशाख पूनम के जन्म के समय विष्णु विष्णु के 9वेक बुद्द का जन्म हुआ था। इस जन्मदिन को जीतना है। इस प्रकार व्यवस्था-व्यवस्था से सभी मनोभावों को पूरा किया जाता है। दिन में भी अधिक महत्ता है। आइए मोर वैशाख पूर्णिमा पूजा-विधि:

  • वजन उठा सकते हैं। इस पवित्रता को बेहतर करने के लिए.
  • बाद के घर के मंदिर में दीप प्रज्वलित करें।
  • ️ अगर️️️️️️️️️️️️️️️️️
  • सभी देवी- गंगा जल से प्रार्थना करें।
  • कृष्ण भगवान विष्णु की पूजा-अर्चना का विशेष महत्व है।
  • इस विष्णु भगवान के साथ माता लक्ष्मी की पूजा- क्रंच भी।
  • विष्णु को भोग-विलास। विष्णु के भोग में शामिल हों। क्रियाकलापों के अनुसार व्यवसाय करना स्वीकार करते हैं। इस बात का भी ध्यान रखें कि सात सात्विक सम्भोग का भोग भोग्य हों।
  • विष्णु और माता लक्ष्मी की आरती करें।

शनि ग्रह मंगल ग्रह राशि में इन राशियों को डेट करते हैं फल, जानें

  • इस पावन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी का अधिक से अधिक ध्यान दें।
  • वैशाख पूर्णिमा के दोष की पूजा- कृपण से विशेष प्रकाश की उपस्थिति में भी ऐसा ही होता है।
  • पौर्णम परिणय की पूजा का भी विशेष महत्व है।
  • चंद्रोदय के बाद की पूजा करें।
  • ️ चंद्रमा️ चंद्रमा️ चंद्रमा️ चंद्रमा️ चंद्रमा️️️️️️️
  • इस दिन लोगों की सहायता करें।
  • अग r आपके r घ r के kasak है है तो तो तो rayraur भोजन भोजन ठीक से ठीक से काम कर रहे हैं।

शुभ मुहूर्त-

  • वैशाख, शुक्लशान – 12:45 पी एम, मई 15
  • वैशाख, शुक्ल पूर्णिमा फाइनल – 09:43 ए एम, मई 16

संबंधित खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button