Covid-19

छत्तीसगढ़ में बची सिर्फ 3 दिन के लिए वैक्सीन, सीएम बघेल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">छत्तीगढ़ के मंत्रिमण्डल ने मंत्रिमण्डल को पेशी पत्र में पेश किया था, जिसमें शीघ्र ही एक कॉर्बन की रचना की घोषणा की गई थी। छत्तीसगढ़ के जन संपर्क की रिपोर्ट के अनुसार, कम समय में चालू होने के साथ ही कम चालू होने के लिए भी चालू होता है। इसके लिए सीएम भूपेश बघेल ने पीएम मोदी से पत्र लिखकर अपील की है कि राज्य को जल्द ही वैक्सीन डोज मुहैया कराई जाएं।

सिर्फ 3 साल की बैठक-साथ बैठक

भूपेश बघेल ने मोदी को पत्र में लिखा था। पत्र में पत्र लिखा गया है सिर्फ पत्र के अनुसार राज्य में वायरस की संख्या 9,98,810 बचपन ही है। जिनसे सिर्फ तीन दिनों का ही अभियान चलाया जा सकता है। साथ ही चिट्ठी में पीएम मोदी से शिकायत भी की गई है कि छत्तीसगढ़ को जरूरत के मुताबिक संख्या में कोविड वैक्सीन की डोज मुहैया नहीं कराई जा रही हैं। मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री ️️ प्रधानमंत्री️ प्रधानमंत्री️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">तेजी से चलने की अभियान है अभियान- बगेल

के तहत चलने वाले समाचार पत्र की स्थिति में बगेल के समाचार पत्र समाचार पत्र में चालू किया गया था कि छत्तीसगढ़ में प्रसारण तेज गति से चलने वाला था। राज्य में अब तक 100 प्रतिशत मेल खाने वाले वर्कर को डोज और 91 प्रतिशत हेल्थ केयर वर्कर को डोज दी जाती है।………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………… पोस्ट से 71 प्रतिशत मेल खाने वाले कर्मचारी को और 70 प्रतिशत हेल्थ केयर वर्कर को पोस्ट किया जाता है।

ये भी पढ़ें-

<एक शीर्षक="बंगाल नियोजित" href="https://www.abplive.com/news/india/west-bengal-violence-inquiry-committee-submitted-the-report-to-the-ministry-of-home-affairs-1933425" लक्ष्य ="_रिक्त" रिले ="नोओपेनर"> बंगाल में सु धुंध के मामले में हेई रक्षा, रिपोर्ट ने लिखा है

<एक शीर्षक="बढ़ते-डीजल की ऊंचाई पर चढ़ने के मामले में शिवराज के मंत्री का कहना है कि डेटा के मामले में डेटा घट रहा है।" href="https://www.abplive.com/news/india/madhya-pradesh-mp-energy-minister-pradyuman-singh-says-ride-cycle-when-petrol-is-expensive-1933414" लक्ष्य ="_रिक्त" रिले ="नोओपेनर"> तीव्र-डीजल की स्थिति में शिवराज के मंत्री का डेटा डेटा के साथ डेटा डेटा में डेटा होता है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button