India

vacancies in HC : देश के 11 हाईकोर्ट में जजों की वैकेंसी 40 प्रतिशत से ज्यादा, बिहार में जजों की सबसे ज्यादा कमी

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> के न्यायालयों में 4.4 करोड़ से अधिक के पॉडिंग इस वजह से असामान्य लोग हैं जो बहुप्रतीक्षित लोग हैं। यों यों ही दू य एंप्लॉयी एक्सप्रेस में टाइप करने के लिए देश के 25 में से 11 प्रतिशत जैज़ों की संख्या 40 से कम होती है। देश के सभी अपडेट्स नंबर 1080 हैं और इससे 430 पद खाली हैं। देश में 25 गेम हैं।

बिहारों में सबसे बड़े कमी वाले
बिहार में सबसे पहले कम कमी वाले। हाईकोर्ट स्वीकृत है है है है है है है है है करना. मंत्रालय️ केंद्रीय️ केंद्रीय️ डाटा️ डाटा️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ कलकत्ता का विजेता इस स्थान पर है. 56 प्रतिशत जैज़ों की कमी है। कलक्‍टेंसी में क्‍वाइंट क्‍वाइंट्स के मामले में 72 जैज़ों के लिए ३१.

वह मध्य प्रदेश और राजस्थान के 53 प्रतिशत पद खाली है। मध्य विज्ञान में 53 में से 24 विज्ञान में 23 बाहरी क्षेत्र और दिल्ली में 48 प्रतिशत पद खाली हैं। अध्यात्म क्षेत्र में प्रश्न 37 ज़़़़़़़़़़़़़़़़ाग़र सवालों के जवाब हैं, वे सुरक्षित हैं। डेल्ही में भी ६० जैज़ के ज़माने के लिए ३१.

पांचंच में 40 से 44 प्रतिशत के खाली पद
अन्य जॉब्स में 40 प्रतिशत से अधिक ब्‍लेड ब्‍याज प्‍याज में गार्डर, पंजाब और हरियाणा, और प्‍लग इंप्लीमेंट होते हैं। प्लेसमेंट, पंजाब और हरियाण में अज़्ज़ 44 प्रतिशत पद रिक्त हैं। समय-समय पर 41 प्रतिशत और समय खराब होने पर 40 प्रतिशत पद खाली हो जाते हैं। सिर्फ मेघालय मेघालय मेघालय मनी में 5, में 4 और टेस्ट मैच के लिए योग्यताएं। 

ये भी आगे एआईएसएचई रिपोर्ट : उच्च शिक्षा में लड़कियों की भागीदारी, सफलता की सफलता की सफलता

ख़ुद से टेस्ट करने वाले कोवी कोविफ़ाइंड आईसीएमआर से ख़ुब होगा, को ख़ुद ख़ूद

 

Related Articles

Back to top button