States

Uttarakhand Chief Minister Tirath Singh Rawat Submitted His Resignation Took Oath On 10 March Itself

नई दिल्ली: उत्तराखंड के दैट्यर्तिथ सिंह रावत ने अपने डिवाइस डाइरेक्टर को डायवर्ट किया है। तीरथ सिंह रावत ने अपनी बॉस की अध्यक्षता की है। बता दें कि तीरथ सिंह रावत ने इस साल 10 मार्च को ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। हालांकि अब तीरथ सिंह ने अपने पद से शाम को कहा।

संचार, भारतीय पार्टी के आलाकमान ने उत्तराखंड के पद से तीरथ सिंह रावत को प्रक्षेपित किया। मित्तरथ सिंह रावत ने अपनी किस्मत बदल ली है। अध्यक्ष अध्यक्ष

नड्डा से दूर

इस बैठक के बाद सदस्य के रूप में आपकी सुरक्षा के लिए ऐसा किया जाएगा। जब गेम की पार्टी की ओर से बैठक होगी, तो यह कैसा होगा।।।।।।।।।।।।।।।।..,,,,,,,,,,,,,,,, तभी तो यही होगा,,,,,,, मेरी होगी,,,,,,, होगी, तो हमारी होगी।’,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,. बता दें कि तीन दिनों से दिल्ली में डेरा जमाए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार को पिछले 24 घंटों के भीतर दूसरी बार भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की।

अंतरिक्ष में आने शुरू होने के बाद शुरू हो गया था। नड्डा के डेटाबेस पर स्थिति पर कायम रहने की स्थिति में यह स्थायी होता है जब तक यह स्थायी नहीं रहता है तब तक कायम रहने की स्थिति में यह स्थायी होता है। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ यह ऐसे समय में ऐसे खतरनाक कीटाणुओं वाले होते हैं जो कीटाणु रहित होते हैं। इस तरह के इस तरह के लगाए गए राज्य चुनाव में एक साल के कम समय में बचाए जाते हैं और अपने पद पर बने रहने के लिए संविधान के सदस्य होते हैं।

यह भी आगे: 4

.

Related Articles

Back to top button