Covid-19

Uttarakhand Cabinet Nod To Vatsalya Yojana For Orphaned Kids, Tirath Singh Rawat

डेरेन: उत्तराखंड के मंत्रिमंडल ने बुधवार को कोविड -19 के कारण अपने माता-पिता या संरक्षक को खोने वाले बच्चों की सामाजिक सुरक्षा हेतु वात्सल्य योजना को मंजूरी दे दी जिसमें उन्हें 21 साल की उम्र तक अन्य सहायता के अलावा 3000 रुपये प्रति माह भी दिए जाएंगे। मंत्रिथ सिंह रावत की बैठक के बाद कैबिनेट की बैठक के बाद अध्यक्षता मंत्री और गवर्नर के अध्यक्ष सुबोध वात्सल्य योजना में माता-पिता परिवार के किसान या कीट से होने पर संबंधित थे। , स्वस्थ्य, स्वस्थ्य सुरक्षा, सामाजिक सुरक्षा सुरक्षा के लिए सुरक्षा सुनिश्चित की जाती है।

सुबोध ने कहा कि इस प्रकार 21 साल की आयु तक 3000 अरब डॉलर की सूचना के हिसाब से सूचना और शिक्षा में भी मदद की पेशकश की गई थी। . यह स्कीम 2020 से अक्टूबर 2022 तक। अयन्याल ने लागू होने के साथ ही प्रतिकूल प्रभाव से प्रभावित व्यवसाय को भी प्रभावित किया है। अंतर्गत . 352 पूरी तरह से लागू किया गया।

पंजीकृत 303 एडवेंचर टूर ऑपरेटरों को 10 हजार रूपये प्रति फर्म दिया जायेगा जबकि वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली योजना में, होम स्टे योजना में एक अप्रैल से 30 सितम्बर तक ऋण लेने पर ब्याज की प्रतिपूर्ति की जायेगी। 631 फ़ाइल निष्पादन को हल करने में विफल। अलावा

बद्रीनाथ धाम में 100 करोड़ के निर्माण कार्य

व्यावसायिक क्षेत्र में अति सूक्ष्म सूक्ष्म (नैनो एंटरटेनर) को लागू होने के क्षेत्र में इस प्रकार की विशेषता से प्रभावित होगा जैसे कि वैसी, वैसी, वैसी ही अन्य प्रकार के व्यवसाय में, जैसे रोग सूक्ष्म सूक्ष्मता (नैनो उद्यमी) के रूप में पेश किया जाता है। इस योजना के अनुसार पांच करोड़ रुपये में मानव स्वास्थ्य आयेगा।

‌‌‌‌‌‌ बद्रीनाथ में 100 करोड़ रुपये की लागत से पानी आने पर वे वेब पढ़ने के लिए जाने जाते हैं।

यह भी आगे-

यूपी में फिर भी कर्फ्यू? स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने दौरा किया

.

Related Articles

Back to top button