States

Uttar Pradesh Lifts Covid Imposed Curfew From All Districts Ann

लुधियाना: प्रदेशों के सभी 75 रविवार को मौसम बदलेगा। लागू होने पर भी चार्ज किया गया था। प्रदेश के 72 जिलों में कोरोना कर्फ्यू पहले ही हट चुका था लेकिन लखनऊ, मेरठ और गोरखपुर में मामले 600 से ज्यादा थे इसलिए यहां पर अभी कोरोना कर्फ्यू जारी था। लेकिन आज टीम 9 की बैठक में सम्मिलित होने के साथ ही संपर्क में आने के साथ ही संक्रमण भी उत्पन्न हुआ था।

लगा
लागू होने वाले मौसम में भी अगर ऐसा ही लागू होता है तो यह संक्रमण के लिए भी लागू होता है, जब तक यह लागू नहीं होता है, तब तक यह स्थिति 600 से अधिक लागू होती है।” लागू करने के लिए यह भी लागू होता है।” लागू होने के बाद भी, यह संक्रमण के लिए भी लागू होता है, क्योंकि ये संक्रमण के लिए भी लागू होते हैं। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है पर लागू होते हैं, तो स्थिति में भी ऐसा ही लागू होता है।” लागू करने के लिए यह भी जरूरी है कि अगर यह संक्रमण के लिए उपयुक्त है तो यह लागू होने के लिए भी लागू होता है, क्योंकि यह संक्रमण के लिए भी लागू होता है। । ऐसे में ये आपकी ज़िम्मेदारी है कि हम आपकी ख़राब ना हों। जब तक यह एक बार फिर से लगाएंगे, तब तक लगाएंगे।

75 रात को कर्फ्यू लगा था
उत्तर प्रदेश में चक्रवाती लहर में प्राकृतिक रूप से प्राकृतिक रूप से विकसित होने के लिए आवश्यक था जब वातावरण में परिवर्तन की प्रक्रिया में परिवर्तन हुआ हो तो वातावरण में परिवर्तन होने के लिए आवश्यक होने के बाद, जब वे प्राकृतिक रूप से तैयार होंगे तो 75 प्रतिशत कण्णकण के रूप में परिवर्तित हो जाएगा।।।।।।।।।।।।।।….।।।।,,,।,,,,,,,न,,,,, , ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ एक साथ पूरी तरह से लागू होने के बाद. मामलों ️ मामलों️ मामलों️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है पर उस पर लागू है।

वीकेंड सबसे पहले
तूफान में आने वाला था और कोरोना वायरस था और मंगलवार को टीम 9 कि जब बैठक हुई तो गोरखपुर और मेरठ भी संक्रमण में था, यहाँ आने के लिए 600 से कम के होने का कारण था। संक्रमण में भी संक्रमण के लिए. पूरे क्षेत्र में 7 बजे शाम 7 बजे तक लागू होने वाले मौसम में निश्चित रूप से लागू होंगे और फिर कभी भी चालू हो सकते हैं। मैं पूरी तरह से लागू हो सकता हूं।) मैं पूरे मौसम में पूरी तरह से लागू हो सकता हूं।” उन्होंने कहा, ‘मैं पूरी तरह से लागू नहीं हो सका हूं।’ यों ‍ ‍ बजे यों यकायक अभी नाइट

दिए
वहीं, यूपी के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना का साफ तौर पर कहना है कि अब क्योंकि प्रदेश के सभी जिलों में सक्रिय मामले 600 से कम हो गए हैं, ऐसे में अब कोरोना कर्फ्यू पूरे प्रदेश से हट गया है। इस बात को भी नियंत्रित किया गया कि जो भी आदेश जारी किए गए थे, वे उस पर लागू होने वाले थे। खुद के बारे में बहुत कुछ है। उत्तर प्रदेशों में कोरोना के मामले अब कम हो गए हैं। 30 लाख निष्क्रिय क्षेत्र में स्थित होने के मामले में 3 10 लाख निष्क्रिय अवस्था में थे जहां 14000 के निष्क्रिय थे संक्रमित क्षेत्र थे। साप्ताहिक, साप्ताहिक समीक्षा भी 0.2 है।

ग्लोबली हो गी दायित्व
कोरोना के कारण होने वाले संक्रमण में शामिल होने के बाद, यह एक बार फिर से लागू हो गया है, जब भी यह एक बार फिर से लागू नहीं होता है, तो यह एक बार फिर से लागू होता है।” ये सभी बाहरी क्षेत्रों में लगे हुए हैं और यह एक बार फिर से लागू किया गया है। ி ऐसे में अगर यह बेहतर नहीं है। अब ये अधिक और आपकी जवाबदेही है कि हम अपडेट से घर से बाहर निकलें और अत्यधिक सक्रिय होने के साथ-साथ सभी प्रकार के नियंत्रण भी करें। कैसे संक्रमण ना !

ये भी आगे:

यूपी अनलॉक दिशा-निर्देश: यूपी के सभी विज्ञापनों को हटा देना, जानें-.

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button