States

Union Minister Dharmendra Pradhan Says Everyone Will Get Equal Education Country Will Develop ANN | नई शिक्षा नीति का आना सुखद, सभी को समान शिक्षा मिलने से होगा देश का विकास

गोरखपुर में धर्मेंद्र प्रधान: केंद्रीय मंत्री और कृषि (बीजेपी) के यूपीआई (यूपी चुनाव) प्रधान ने प्रधान ने स्विच किया था। उन्‍होंने कहा कि ब्रह्म महंत दविजयनाथ ने स्त्री और बाल जैसा जैसे दिखने के लिए हमेशा प्रयास किया। नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2020 में राष्ट्रीय शिक्षा मंत्री बनाया है। नई शिक्षा नीति का एक सुखद संदेश है। सभी जाति समान वर्ग के समान, विकास के मामले में। यह राज्य और केंद्र सबका साथ सबका विकास, सबका विश्वास के भाव से कार्य करता है।

धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि सर्वोच्चता के 75 पूरे होने पर पूरा होने पर पूरा होने वाला है। गोरक्ष नाथ एक शिक्षा का धाम, कार्यप्रणाली समाज की रक्षा करने के लिए कार्य करता है। लड़ने वाले की और चौरीचौरा चाल में महंत दविजयनाथ की महाप्रबंधक है। गर्भवती होने के लिए भी ऐसा ही होगा। सरकार के अधिकार, क्रियान्वित करने के कार्य में सक्रियता। आने वाले समय में भारत विश्व में प्रमुख होगा। यह भी कहा जाता है कि गोरखपुर के कारखाने के मालिक विशेष रूप से परिचित होंगे, जो मिलकर काम करेंगे।

इस बात को बदलने के लिए योगी आदित्यनाथ ने कहा। जहां व्यक्ति के मन में सकारात्मक सोच नही वहां विकास नही, यह संस्थाओं से प्राप्त होता है। पोस्ट क्रम क्रमांक क्रमांक है। गांव, महिला, स्त्री के कल्याण के लिए, नरेंद्र मोदी ने देश में अनेक जन कल्याणकारी योजना बनाई है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना ने देश में ग्रीन एनर्जी के क्षेत्र में एक नई क्रान्ति पैदा की आज प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के दूसरे चरण का कार्य भी प्रारम्भ हो गया है। गरीबी के मामले में हर गरीब के लिए.

“हर शहर में सुविधा होने का लाभ”
योगी ने आगे कहा कि भारत के हर मरीज को सुविधाएं मिलने का मौका मिलेगा। सबका साथ सबका विकास है। ये सनातन भाव विश्व में विभिन्न प्रकार के बदलाव हैं। यह कि गोरखपुर में 1990 में बने रहे। प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में गोरखपुर का खाद कारखाना अगले महीने फिर से चालू होगा।

ये भी आगे:

नरेंद्र गिरी मृत्यु: नार गिरी की मृत्यु पर मरोड़ते मरते हैं

यूपी राजनीतिक समाचार: यादव का सबसे बड़ा तंज, बोल-बोलने का सुंदर काम

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button