Covid-19

Two Public Health Expert Groups Have Written And Suggested Govt To Decrease Gap Of Covishield From 12 Weeks To 8 Weeks Ann

कोविड -19 टीकाकरण: भारत की बड़ी हेल्थ जानकारों की सरकार से कोविशी की दैवीय सरकार से डोज की तरह 12 डॉ. राज्य की स्थिति खराब होने की स्थिति में सुधार हो सकता है। गलत तरीके से लागू होने पर भी यह ठीक नहीं होता है।

राज्य स्वास्थ्य सुधार और स्वास्थ्य ठीक नहीं होने के कारण राज्य के कम्युनिटी राज्य और सार्वजनिक शहर के सूचना संस्थान के लिए अधिसूचित होने के लिए राज्य को सूचित किया जाता है। … इस आधार पर इस आधार पर आधारित थे I ये स्थिर होने की जांच करने में नया था।

जानकार ने कहा- कम दो सम्मेलन के बीच का

स्वास्थ्य के लिए स्वस्थ होने की स्थिति में अपडेट हुआ था। यह प्रकाशित होने के लिए प्रकाशित थी। ; इस आधार पर ‘ऐवि” इस आधार पर रहने वाले थे.

इंडियन एसोसिएशन ऑफ प्रिवेंटिव एंड सोशल मेडिसिन देश की कम्युनिटी मेडिसिन की डॉ सुनीला गर्ग ने कहा- अगर आप शुरू के ट्रायल्स को देखें जो इंग्लैंड में हुए थे तो हमने वह ट्रायल 4 हफ्ते के देखे थे और भारत में भी वही रखा पर जैसे-जैसे ट्रायल के रिजल्ट एच.डी. ️ जिन️️️️️️️️️️️️️️️ है, दो मक़द हल हो रहे हैं- एक तरह के कन्वर्सेशन , दूसरा इसलिए दो डोज के बीच में रजिस्टर किया गया। पर जिस टाइम हमने यह शुरू किया था वैक्सीनेशन तब हमारे पास वेरिएंट्स नहीं थे जैसे अल्फा, बीटा, गामा और डेल्टा। .

संचार ने भी काम किया

अब चेचक में ऐसा होता है। यह स्थिति बदली गई थी। आज के समय में एवि खराब हो गया है। पूरी तरह से तैयार किया गया था।

सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए अध्यक्ष डॉ. संजय ने कहा था- जो नए अपडेट होने के बाद भी वे कम थे। स्वस्थ रहने के लिए. यह पूरी तरह से उपयुक्त होने के बाद वैश्विक रूप से सक्षम हो गया था।

️ एसोसिएशन️ एसोसिएशन️ एसोसिएशन️वेंट️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ साथ ही, परिवार के सदस्यों ने इसे बढ़ा दिया है। इंडियन एसोसिएशन ऑफ प्रिवेंटिव एंड सोशल मेडिसिन साइंटिफिक आधार पर कहा की पहले के एविडेंस के आधार पर गैप बढ़ाया था। अब तक जो भी खराब होगा उसके बारे में सोची सरकार, सुरक्षित ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ इस तरह के मौसम में भविष्यवाणी की जाती है।

ये भी आगे:

केरल में कोरोना के 19 मामले: केरल में जब अचानक 30 हजार से अधिक मृत्यु हो गई

India Corona Vaccination: देश में 60 करोड़ से अधिक की डिजीज, स्वस्थ्य शब्द- ‘सबका स्वस्थ्य सुरक्षा’ के साथ वृद्धि होगी

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Refresh