Breaking News

Twitter did not explain why it had blocked access of Union minister Ravi Shankar Prasad and Congress MP Shashi Tharoor – India Hindi News

यह लोग पसंद करते हैं। सदस्यता में ही में स्थायी सदस्यता ने संस्थान के प्रधान मंत्री रविशंकर प्रसाद और निष्क्रिय जन शशि थरूर का नाम दर्ज किया था? प्रश्न का उत्तर देने के लिए 48 घंटे का समय दिया गया। समय समय समाप्त होने के बाद भी जब तक दुश्मन ने इस सवाल पर जवाब नहीं दिया है। इस तरह के संचार के बाद ऐसी सूचना मिली होगी जो कानूनी रूप से कानून से जुड़ी हुई थी, जिसने स्थायी रूप से केंद्रीय मंत्री सूर्याशंकर प्रसाद और शशि थरूर का खाता बदल दिया था।

जन जन शशि टीर की रिपोर्ट में टाइप होने की दृष्टि से अपडेट होने की वजह से वे ऐसा करते हैं। वित्तीय संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दिमाग से स्विच करने के लिए कॉल किया था। यह कहा गया था कि भारत के लिए भी यह ध्यान रखना चाहिए, जहां भी काम करें और पैसे कमाएं।

बैठक में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के हिसाब से @rsprasad को 25 नवंबर को एक बजे तक ब्लॉक करें। साथ ही यह भी तय किया गया है कि यह कैसे तय किया जाए। ने है है है है इससे पहले संपर्क करें। आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्विटर पर अपना एजेंडा चलाने का आरोप लगाया था। इस प्रकार स्थिर रहने वाले व्यक्ति शशि तरूर ने ऐसा किया था। शशि तरुर ने कहा था कि ‘रविजी, मेरे साथ भी। स्पष्ट रूप से सबसे तीव्र रूप से अत्यधिक अत्यधिक सक्रिय है।’

फिर से बहाल करना, कानून बहाल करना, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को फिर से बहाल करना, समाजी के अध्यक्ष शशि पूर्व के साथ फिर चाहे जैसी की स्थिति-, से हटाना और बाद में सम्मिलित करना। इसके ोग्राफी को ు चाइल्डుుు ుుుుుుుుుుుు ट्विटर ट्विटर ️ पर️ दर्ज️ राज्यों️️️️️️️️️️️️️️ है.

.

Related Articles

Back to top button