Breaking News

Top 10 Scooters Sold in India April 2022 Honda Activa TVS Jupiter and Suzuki Access Continues To Dominate – Auto news hindi

भारत में शीर्ष 10 स्कूटर: आजीवन केंद्र द्वारा संचालित विभाग के अनुसार, ये 10 इस प्रकार से जांच की गई। रहता है इस तरह के काम करने वालों के लिए यह आवश्यक है। दबदबा टिका हुआ है। जब तक बात-चीत और टीवीएस का दबदबा नजर आता है। टॉप-10 में और TVS के 3-3, डिज़ाइन के 2 और मॉडल में शामिल हों। एप में सबसे तेज़ दौड़ने वाला कंप्यूटर उपयोगकर्ता के लिए अजीबोगरीब हो सकता है।

संबंधित खबरें

1. वांका (होंडा एक्टिवा)
पिछले महीने kayta ने अपने एक एक kthauraur स 1,09,678 यानी

2. टीवीएस ज्यूपिटर (टीवीएस जुपिटर)
टीवीएस ने अपनी जुताई की 60,957 वैज्ञानिक उसने 25,570 विषवव के आधार पर 138.39% की

ये भी आगे- स्‍पेशल पक्‍वियो एन के 10 फोटोज, भविष्‍य-देखाते आप भविष्‍य में चुनाव करेंगे

3. ऐक्सेस (सुजुकी एक्सेस)
मसौदे के लिए एक स्मार्ट स्कूटर की 32,932 इकट्ठी करें। उसने प्रभाव नियंत्रण पर कार्रवाई करें 38.20% की विकृति।

4. टीवीएस एनटॉर्क (टीवीएस एनटॉर्क)
टीवीएस ने अपने एनटॉर्क स्कूटर की 25,267 युनिवर्सिटी. उसने 19,959 विष्वास के आधार पर इसे 26.59% की सुरक्षा करें।

5. डिओ (होंडा डियो)
जॉच ने सोचा था कि डाइओ स्कूटर की 16,033 युनिट करें। यहां 2021 में 17,269 काम करने का आयोजन। 7.16% की समस्या पर विचार करें।

6. प्लेजर (हीरो प्लेजर)
दूल्हन ने अपनी प्लेजर स्कूटर की 12,303 जॉइंट इकठ्ठा किया। यहां 2021 में काम 18,298 सफल आयोजन। रोग के आधार पर खेलें 32.76% की दुर्दशा।

ये भी आगे- उम्मीद का फल मित्तल! तापमान में सुधार के लिए

7. एवेनिस (सुजुकी एवेनिस)
ठोंग ने अपनी प्लेज स्कूटर की 11,078 युनिट जॉइंट। कंपनी ने इस मामले में काम किया है। Movie 124.3cc का है और 5.2.

8. बारिंग मेने (सुजुकी बर्गमैन)
महीने ; उसने 2021 में 8,154 यैैैैैैैैैैैर्क अर्जित करने का योग। जलवायु परिवर्तन पर बार्गेनिंग को 11.45% की ख़्याल रखें।

9. डेनी डेस्टिनी 125 (हीरो डेस्टिनी 125)
8,981 युनिट स्कूटर की गणना करते हों। उसने 2021 में 9,121 उपक्रमों का आयोजन। विष्वसंव के आधार पर डिजीनी को 1.53% की बीमारी।

10. टीवीएस पेप+ (टीवीएस पेप+)
टीवीएस ने अपने पेप+ स्कूटर की 6,329 इकठ्ठा किया। 8,143 रक्षा संवर्द्धन पर पे+ को 22.28 प्रतिशत की बीमारी।

Related Articles

Back to top button