Panchaang Puraan

Today Horoscope 5 July: Gemini people will get good news Sagittarius people keep reciting Bajrang Baan Know aaj ka rashifal – Astrology in Hindi

मौसम की स्थिति-मैच भी मीन्स में बने हैं। बुध और राहु वृषभ राशि में हैं। मिथुन राशि में सूर्य हैं। शुक्र और मंगल ग्रह राशियों में हैं। वृश्चिक राशि में केतु, मकर राशि और मकर राशि में गुरु का गोचर है। गुरु और शनि अकर्मक। मंगल ग्रह के हैं।

राशिफल-

मीन-संचार का संचार होगा। तारकी के रस्ते खुलें। सुधारों में सुधार होगा। प्रेम और व्‍यापार. शनिदेव की अराधना..

वृषभ-मन अनजानी-खुशी से खर्च की अधिकता को भी सोचेंगे। स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍ प्रेम की स्थिति में टी-तू, मैं-यह हो सकता है। ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍! गोकू की गणेश अराधना.

मिनट-अर्थव्यवस्था की स्थिति सुलझाएंगे। रुका धनी वापस। अच्छी बात है। स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍ माँ काली का स्‍मारक।

कर्क-आक्रमण-कचहरी में विजय। आशा की उम्मीद की जा सकती है। स्वास्थ्य पहले से बेहतर लेकिन प्रेम और विपरीत लिंगी सम्बन्धों में थोड़ी परेशानी हो सकती है। बजरंग बली की आराधना.

सिंह-धर्म कर्म में भाग लेने वाले। कुछ काम काम। यात्रा में लाभ होगा। यात्रा में लाभ होगा। स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍). प्रेम मध्यम, व्‍यापार. विषुणु की आराधना.

कन्या-जोखिम समय है। किसी भी प्रकार का कोई भी रिस्क न लें। स्‍‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम परिवर्तन की ओर है। व्‍यापार्किक अवस्था में I लाल वास्तु का दान।

तुम-रंगी बन व्‍यवसायिक कामयाबी। रात के समय आनंदमयी शांतिदूत। प्रिय-प्रेमिका की है। बेहतर से बेहतर, प्रेम ठीक-ठाक, व् यवसायिक दृष्टि से ठीक ठीक से चलना चाहिए। लाल वास्तु का दान।

वृश्चिक-परेशान आगे बढ़ते हुए। स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍]प्रेम की स्थिति मध्यम है। व्‍यापार पीली वस्तू।

धनु-भावुकता पर दोष। पूर्ण रोकथाम। प्रेम मध्‍यम. व्‍यापार-करीब ठीक है। बजरंग बाण का पाठ.

मकर-होमकलह के आधा हो सकता है। संतोषी रोगों के रोग। स्‍‍‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍करण माँ काली का स्‍मारक।

कुंभ-सहयोगी-मित्रों की मदद से आगे बढ़ें। संचार का संचार। लाभ लाभ होगा। स्‍‍‍‍ध्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍मां, प्रेम की स्थिति मध्‍यम व्‍या‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍चुं। काली वस्तु का दान।

मीन-बात का ध्यान न दें। स्‍‍‍‍थ्‍य निष्‍क्रिय मध्‍यम। वैयापार्क दृष्टि से आप मध्‍याम उत्‍पन्‍न करते हैं। केस-पैसे के मामले में कोई रिस्‍क न लें। किसी को सौंपना न करें। प्रेम की स्थिति उम्मीद है। गो शिव का स्‍मरण।

प्रस्तुति-
अजय कुमार सिंह
गोरखपुर।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button