Panchaang Puraan

Today Horoscope 31 May 2021: Today the planetary position is not good for the public Gemini people may get hurt Know Aaj ka rashifal

मौसम की स्थिति-सूर्य और राहु वृषभ राशि में हैं। बुध, शुक्र और मंगल मिथुन राशि में हैं। बुध का वक्री प्रतीत होता है मंडल, मन-मस्तिष्क, त्‍वचा और की समस्‍या ला है। वित्‍तीय स्थिति भी संभव है। केतु वृश्चिक राशि में हैं। चंद्रमा और शनि मकर राशि में हैं। शनि पर विषाणु इसलिए प्रत्यूक्ष विष योग हैं। जैसा व्यवहार नहीं किया गया है। गुरु कुंभ राशि में हैं। इस तरह के विपरीत वातावरण में ऐसा होता है।

राशिफल-

मीन-रोज़ी-रोज़गार में तराकी। स्‍‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम की स्थिति नकारात्‍मक, संतान पर ध्‍यान की तारीख है। सूर्यदेव को जल.

वृषभ-स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍. लाल वास्तु का दान।

मिनट-सूचनाएँ हैं। काम करना संभव है। किसी को नुकसान हो सकता है। स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍होंने यह भी सुनिश्चित किया था कि यह 31 मई तय हो सके। प्रेम में बेहतर स्थिति। गुणवत्ता से भी बेहतर स्थिति। प्रयोगशाला में प्रक्रिया में असामान्य गति से आगे बढ़ने पर। पीली वस्तु का दान।

कर्क-दैत्य का सानिध्व.. रोज़ी-रोज़गार में तराकी। सुधारों में सुधार होगा। प्रेम की स्थिति मध्यम है। ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍य बजरंग बली की आराधना.

सिंह-शत्रुओं पर दुश्मन। रुका हुआ काम ठीक से काम कर रहा था। स्‍‍‍थ्‍य मध्‍यम। प्रेम और व्‍यापार लगातार चल रहा है। संतान की स्थिति उम्मीद की जा सकती है। विषु की आराधना.

कन्या-मन फू टा। भावुक बन रहे हैं। भावुकता में कोई भी न लें, पराभव होगा। बेहतर बेहतर है। प्रेम की स्थिति मध्यम है। मन फू टा। अस्पष्ट दृष्टि से प्रक्षेपित। शनिदेव की अराधना..

तुम-घर सुखी है। होमकलह के चिह्न हो सकते हैं। स्‍‍‍थ्‍य, प्रेम मध्‍यम है। यह पार से सुरक्षित रहें। पीली वस्तु का दान।

वृश्चिक-परक्रम रंग। जो भी आपने सोचा था लागू करें। स्‍‍‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और संतान की स्थिति बेहतर है। व्‍यापार निरंतर चलने वाला है। नील वस्तु का दिवस।

धनु-ध्वनि असंवैधानिक ईमेल। निवेश का इन्वेंटरी न करें। कुटुंबीजनों से अनबन हो जाती है। बेहतर बेहतर है। प्रेम की स्थिति में सुधार होगा। व्‍यापार्क नजरिये से चलने की दिशा में आप। शनिदेव की आराधना करें।

मकर-झंझट की लहरें प्रेम में सुधार करें। ️पा️ सही️ सही️ आप️ सही️ सही️️️️️️️️️️️️️️️️️️ माँ काली की अराधना..

कुंभ-मनस्वीव वित्‍तीय स्थिति को. प्रेम से बेहतर है। व्‍यापार्क नजरिए से मध्‍यम समय. गणेश जी की अराधनाएं।

मीन-अर्थव्यवस्था की स्थिति सुलझाएंगे। रुका हुआ धन वापस। आई के उपयोगिता बनेंगे। स्‍‍‍‍‍‍‍‍या, प्रेम म‍‍य्यम, व्‍याध्‍य ध्‍व. गो शिव की अराधना..

प्रस्तुति-
अजय कुमार सिंह
गोरखपुर।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button