Panchaang Puraan

Today Horoscope 30 May: The position of planets is bad or good and Virgo and Aquarius will remain unhappy know how Aaj Ka Rashifal

मौसम की स्थिति-राहु और सूर्य वृषभ राशि में हैं। शुक्र बुध, शुक्र और मंगल के साथ राशि चिन्ह। वृश्चिक राशि केतु। यह गलत है. कुंभ राशि में गुरु का गोचर चल रहा है।

राशिफल-
मीन-
स्थिति सुधारा गया। प्रेम में सुधार करें, प्रेम की स्थिति को सुधारें और व्‍यापार्क को पहले से ही बेहतर कहा जाए। गो शिव की आराधना करें।

वृषभ-कुछ काम काम पार्ट। स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍ व्‍यायापिक डिटेक्‍शन से मध्‍य ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍ शनिदेव की आराधना करें।

मिनट-सूचनाएँ हैं। काम करना संभव है। किसी को नुकसान हो सकता है। प्रेम की स्थिति से बेहतर है। वायपा प्रकाशिक दृष्टि से आप गलत हैं। गो शिव की अराधना..

कर्क-मौसम के मामले में। रोज़ी-रोज़गार में तराकी। प्रेम की स्थिति में सुधार करें बेहतर। व्‍यापार्क नजरिये से चलने की दिशा में आप। हनुमान जी की अराधना..

सिंह-शत्रुओं पर दुश्मन। रुका हुआ काम ठीक से काम कर रहा था। स्‍‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम की स्थिति उम्‍मीद है। प्लास्टिक के दृष्टिकोण से। कोई भी नील नदी का दिवस। उम्मीदें होंगी।

कन्या-मनप्रपर्ण करना. गलती, प्यार की स्थिति को सोचकर मनस्वीव। बेहतर बेहतर है। व्‍यापार्क नजरिए से आप मध्‍यम गति से दौड़ेंगे। पीली वस्तु का दान।

तुम-घर की खुशियाँ। होमकलह के दृश्‍य। रक्‍तचाप अनियमितता हो सकती है। स्वंय, प्रेम मध्यम, व्‍यापार-करीब ठीक है। शनिदेव की अराधना..

वृश्चिक-परक्रम रंग। रोज़ी-रोज़गार में तराकी। भाई-बहन के स्‍‍‍‍‍‍‍‍यं पर ध्यान दें। ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍1 प्रेम की स्थिति उम्मीद है। यह संभव हो सकता है। गो शिव की अराधना..

धनु-अतुल्यकालिक हो सकता है। रोज़ी-रोज़गार में तराकी। इन्वेंटरी इन्वेंटरी न करें। कुटुंबीजनों से न उलझें। स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍ शनिदेव की अराधना..

मकर-संचार का संचार होगा। प्रेम का साथ होगा। संतान की स्थिति उम्मीद होगी। व्‍यापार पहले से बेहतर प्रदर्शन करते हैं। माँ भवानी को आराध्‍य पूजा-अर्चना-एक.

कुंभ-मनप्रपर्ण करना. अज्ञात भय सता। कमाना अनुभूति। स्‍‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम ठीक-ठाक है। ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍ भोलेनाथ की आराधना करें।

मीन-अर्थव्यवस्था की स्थिति सुलझाएंगे। ख्याति समाचार की गुणवत्ता। स्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम की स्थिति एसिस्‍पद होगा। ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍ शनि से सम्वेदित अवतरण। उम्मीदें होंगी।

प्रस्तुति-
अजय कुमार सिंह
गोरखपुर।

.

Related Articles

Back to top button