Crime

Threat to Haryana MLAs case : accused created fraud network by contacting number received from Pakistan

हरियाणा के चार विधायकों को धमकी देने के मामले में हरियाणा एसटीएफ द्वारा गिरफ्तार किए गए छह आरोपियों से पूछताछ जारी है। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उनके पास भी पाकिस्तान के नंबर से कौन बनेगा करोड़पति का एक लिंक मैसेज के जरिये आया था। उन्होंने इस नंबर पर संपर्क कर पूरी कहानी जानी। उसके बाद मोटी कमाई के लालच में ठगी का नेटवर्क तैयार कर लिया।

कम समय में करोड़पति बनने के लिए आरोपियों ने पाकिस्तान के उस नंबर पर संपर्क किया और फिर देश में इस तरह का रैकेट चलाने के लिए उनसे बात की। दोनों तरफ से रजामंदी होने के बाद आरोपियों ने अपना नेटवर्क बढ़ाया और इस ठगी के बड़े खेल में शामिल हो गए। सभी छह आरोपी आठ-आठ दिन की रिमांड पर हैं।

विधायकों को धमकी मामला: 6 लोग गिरफ्तार, पाकिस्तान से जुड़े गैंग के तार

कई बैंकों खुलवा रखे थे खाते : एसटीएफ ने बिहार के बेतिया निवासी दुलेश आलम, उत्तर प्रदेश के बस्ती निवासी बदरे आलम, बिहार के गोपालगंज निवासी अमित यादव उर्फ राधेश्याम कुमार यादव, मोतिाहरी निवासी सद्दीक अनवर, मुजफ्फरपुर निवासी सनोज कुमार और बेतिया निवासी कैश आलम को गिरफ्तार किया था। इनके पास से 24 मोबाइल फोन, 57 सिम कार्ड देश और विदेश के नंबरों के, 73 बैंक एटीएम कार्ड, बैंक खातों की 24 पासबुक मिले हैं।

मुजफ्फरपुर में चल रहे कई और गिरोह

एसटीएफ के एक अधिकारी ने बताया कि पकड़े गए सभी छह आरोपी बिहार के मुजफ्फरपुर के रहने वाले हैं। आरोपी दसवीं या 12वीं पास हैं। इन्होंने पूछताछ में बताया कि जिस जगह पर ये रहते हैं, वहां इस तरह के कई और गिरोह चल रहे हैं। जो लोगों को अपने जाल में फंसा कर उनसे मोटी रकम ठगते हैं। इस गिरोह के कई और लोगों ने नाम बताए हैं।

इंटरपोल की मदद

विधायकों को धमकी देने वालों का पाक कनेक्शन सामने आया है। जिन छह लोगों को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है, उन्होंने बताया कि ठगी की सभी कॉल पाकिस्तान से की जाती हैं। पाकिस्तान के करीब 10 नागरिकों के इस गिरोह में शामिल होने की बात भी उन्होंने एसटीएफ को पूछताछ में बताई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button