Panchaang Puraan

These yogas are being made in the month of Bhado this effect will be there – Astrology in Hindi

मौसम के हिसाब से भाद्रपद 13 अगस्त से 10 तक वृहस्पतिवार में बदलेंगे। भाद्र मास पांच पंचाक्ष और पांच का योग, शनि-शुक्र का समप्तक योग, सूर्य और शुक्र का मैलेच्छ योग भारत के क्षेत्र के क्षेत्र में वायु, युद्ध और नुक्कड़ का योग है। सूर्य-शुक्र के म्लेच्छ योग से देश के आंतरिक दंगा-फसियेड, कल्चरल कल्चरल प्रत्यूपपर्ण, मजबूत बनाने के लिए और प्रबलता के साथ। इस प्रकार से फलादेशा है।

लक्ष्मी जी की सुंदरता

भादो मास में पांच शनि व अन्य। सराफकस, सराफा छत्र खंड या रण का आगाज। सब कुछ धान्य अनाज।। राष्ट्रों में शांति। नीरगी रंग। शनि शुक्र का समसप्तक योग। भारत में रोग और रोग।। अराजक की भरमार। विश्व में व्यापार।। प्राकृतिक की भी हो दुष्कर चाल। मानव हो साल… सूर्य शुक्र युति का म्लेच्छ योग। कटुता,अराजकता का रोग रोग।। वरदान ईश्वर से वरदानी। करो इंसानियत का कल्याण।
️ उपरोक्त️ विश्व में संक्रमित रूप में। इसमें सुधार किया गया है। चक्र जैसे भूकंप, अतिवृष्टि और अग्निकांड के भी बनेंगे। भारत में नियंत्रण और अराजक तत्व हिंसा और अव्यवस्था का प्रकोप। वाद-विवाद और लोकसभा में स्पीड फिक्सिंग।

(ये सही ढंग से काम कर रहे हैं और जनता के लिए ऐसी स्थिति में हैं।)

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button