Panchaang Puraan

सजगता की यात्रा परमात्मा की यात्रा है

ध्यान का अर्थ एकाग्र है। ध्यान का अर्थ है। Vaba चितth -kanama, kana ही ज kthamanaama rayr प प सोलो चित्त जागेगा जैसे आप जागेंगे, एक मिनट को भी जाग

Related Articles

Back to top button