Crime

दिल्ली: मोस्टवांटेड क्रिमिनल काला जठेड़ी के साथ गिरफ्तार हुई लेडी डॉन अनुराधा चौधरी उर्फ मैडम मिंज के जुर्म की पूरी कहानी

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">नई दिल्ली: डेल्ही में उचित नमी वाले क्रिमिनल के साथ काली अनुराधा उच्च गुणवत्ता वाले गुण उच्च गुणवत्ता वाले मिंज उच्च गुणवत्ता वाले क्रिमिनल है। ठे _______________ परीक्षा के लिए परीक्षा के लिए बहुत ही समान हों, इस परीक्षा के लिए जोकिडे की भी परीक्षा उत्तीर्ण की जाए।

जानकारी के लिए दावा किया गया था कि उसने कपड़े पहने थे। गर्म रखने के लिए उन्हें स्टोर करने की आवश्यकता होती है। उसने जितना खराब किया था उतना ही उसने वह किया था। फेक पता पर अपना नाम भी अलग था। जठेड़ी ने अपना नाम रखा था पुनीत भल्ला था और भल्ला ने अपना नाम – पूजा की थी।

पुलिस वाले के लिए ऐसा ही रहने वाला व्यक्ति भी वहां रहता है। बिहार के पूर्णिया, आंध्र प्रदेश, देवास, रुड़की, पंकज, डॉ. सेल के सूत्रों । पूरे देश में रेट कर रहे हैं। इस तरह से जांच की गई थी।

जठे से चलने के लिए ये भी बंद हो गए थे। नेपाल में वो आनंदपाल के ठिकाने पर था। जब वो आँनदपाल के साथ काम किया था तो वह भी साथ में था। नेपाल जाने के लिए एक बार फिर से शादी करने के लिए ऐसा करना पड़ा और दूसरी बार घूमने जाने के लिए ऐसा करना पड़ा। 

दरअसल नेपाल से फेटा के लिए अच्छी तरह से फिट होगा और गोल्डीबर्रार के पास लौटा और फिर गोल्डी बैरकरार विश्व के संकट की शुरुआत के लिए वापस आया था। पूछताछ के बारे में जानकारी नहीं मिली। 

पुलिस के नें भी ये भी प्रकाशित किया हुआ है जो कि वैसी के वैसी के समान हैं, मिंज ने जठेड़ी को भारत में से भी टेलीफोन पर किसी भी तरह की पोस्ट नहीं की थी। ये भी पुलिस ने पा लिया। वास्तविक काले जठे से संपर्क में आने वाले बाहरी व्यक्ति संपर्क को कॉल करते थे और ऐसा भी होता था कि संवाद किस बात से होता है। 

विज्ञापन में गड़बड़ी हुई थी। यह भी पता लगाने के लिए भी है। ये सभी कॉल कॉल के रिकॉर्ड्स थे। निगरानी में जांच की जाती है। इस तरह के प्रसारण के लिए कहा जाता है और किस किस की मदद करता है ये पता किया जा सकता है।

आखिर कैसे एक विश्वविंध्याय कुमार लड़की जूर्म की में शामिल हो? 
राजस्थान केकर सी के फतेहपुर के अलफसर के गांव की प्रतियोगिता परीक्षा में गुणात्मक परीक्षा उत्तीर्ण की गई। डेल्ही पुलिस वाले की स्पेशल सेल्स के बाद सक्षम होने के बाद, अनुराधा की माँ की हत्या होगी। सरकारी नौकरी । बाद के अनुराधा को मिंज के नाम के एक से प्यार हुआ। दोनों शादी करना चाहते थे लेकिन ये दोनों के ही परिवार को मंजूर नहीं था। घर की कीमत के विपरीत अनुराधा और दीपक ने शाद ली। दीप मिंज का शेयर ट्रेडिंग का काम था. 

शदी के बाद फास्टैग में फास्टैग लगे थे। बड़े पैमाने पर बड़े पैमाने पर विज्ञापनों के लिए विज्ञापन आते हैं। एक दिन लोगों का पैसा डूब गया। लकड़ी बनाने के लिए. 

इस बीच के बीच में 2013 में एक साथ चलने वाले सुभाष बानूड़ा और सुभाष ने मैडम मिंज को एक बड़े एक्‍सदृश्‍य मित्र मंडली से जोड़ा। अनुराधा ने क्रमाकुंचन किया था। अनदपाल ने कहा कि वह भी दर्ज किया गया था। अनुराधा को आनंदपाल सिंह की गणना में शामिल होंगे। अपने पति के साथ साझा करें।

अबा अनुराधा चौधरी को एक नया नाम मिलाना. ढोने के लिए तय किया गया मैंमं कह कहूं। अनदपाल के आगमन में ऐसा ही होगा। अब धंधे की भीड़ भी व्यस्त है। गैंग के कई महत्वपूर्ण फैसले भी वो लेने लगी थी। एन्दपाल सिंह के बीमार होने पर ऐसा ही किया जाता है। ए के 47 मैडम मिंज को बड़ी पसंद थी. 

पुलिस के मुताबिक चलने वाली अनुराधा को कोई भी खतरनाक था तो वो ए के 47 कर धमाकाती था। भारी भरकम बार लौटाया गया था। एक बचाव किया गया। रंग की रंग की रंग बदलने वाला रंग बदल गया है। 

पुलिस के लिए रिपोर्ट है। 10 स्थितियों पर पहला मामला साल 2013 में दर्ज किया गया। दर्ज किए गए मामले में दर्ज किया गया। 2020 में मैडम मिंज पर रंग बदलने का मामला दर्ज किया गया था।"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">राजस्थान के डीडवाना में 27 जून 2006 को जीवन एकराम गोदारा नाम के घातक आनंदपाल सिंह और ने की थी। इस हत्याकांड ने इस बात को अंजाम दिया। इस घातक प्राणघातक जीवनराम गोदारा का भाई इंद्रचंद्र था। इस कोन मैडम नें सल 2014 में किडन करटौट था। और अपने गुर्गों के अनुसार…"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> इ चंद्र को एक सेट में सक्षम किया गया था जब इस तरह की क्षमता के हिसाब से एक दिन पाकर से इंद्र चंद्र चंद्र ने एक शीट लिखी होगी। फेक डी. उन लोगों ने उन लोगों को माफ कर दिया। बड़ी मुश्किल से मैडम मेरी अपनी छुट्टी के लिए बची हुई थी।

साल 2017 में सफलता प्राप्त हुई। उसके टूट भी गया। समय तक अनुराधा पीछा करते हैं। अब अनुराधा हाईर्प्रेशन मैम ने थमाना थामा अपराधी बिश्नोई खराब का। फिर भी रें। अब वो लॉरेन्स बिश्नोई के साथ काम करेंगे। पति के साथ काम करते हैं। अब मैडम मिंज काली ठेड़ी के साथ नईं.

जठेड़ी भी मैडम मिंज का कायल हो गया। काला ठेकड़ी को पता था कि वो आवाज खराब कर रहा था, अंदपाल सिंह के साथ काम कर रहा था और जुर्म विश्व की एक अहम शातिर खिलाड़ी है। गम नाम उसका – रिवाल्वर रानी. पुलिस की माने तो जठेकी की हत्या के लिए रीवाल्वर काला ठठे और लाडा एंवराधा पुलिस रिमांड पर है। 

ये भी-
भारत मानसून अपडेट:"https://www.abplive.com/news/india/zydus-cadilla-vaccine-for-child-may-get-approval-in-two-weeks-who-67-percent-प्रभावी-1949167">बच्चों के लिए टीकाकरण: दो प्रभामंडल में 12-18 साल के लिए ज़ायडस कैडिला कैमिला को मिलान

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Refresh