States

गोरखपुर: पुलिस के ऑपरेशन तमंचा अभियान का दिखा असर, 50 लाख की रंगदारी मांगने वाला बदमाश गिरफ्तार

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">गोरखपुर: यूपीआई के गोरखपुर में पुलिस दैत्याकार तमंचा मिशन का दिखाई देने वाला दिखाई देने वाला दैत्याकार है।. रुपए पुलिस ने 15 हजार की घोषणा की। देर रात ही गोरखपुर की खोराबार पुलिस और क्राइम ब्रांच ने संयुक् & जेडडब्ल्यूजे; त ऑपरेशन में मुठभेड़ के बाद एक बदमाश को पैर में गोली लगने के बाद गिरफ्तार किया है। चमत्कारी गोरखपुर की गोरखनाथ थाने की पुलिस ने 15 हजार के इनामी बदमाश को कामयाबी हासिल की है।

गोरखपुर के गोरखनाथ सर्किल के रोग नेश सिंह नेम कि कि गोरखपुर में है जी जोन कुमार के दिशा-निर्देश पर विपरीत दिशा में तमंचा गलत दिशा में चलने वाले डॉक्टर हैं। इस तरह बदमाशों को तैनात किया जाता है। दृश्‍य रोग परिस्‍थिति में शरीर की निगरानी करने वाले डॉक्टर गोर्कीनाथ कुमार कुमार के नियंत्रण में थे और गोरखनाथ रामाज्ञा सिंह ने 50 लाख के रंग की पहचान की थी और खराब होने की स्थिति में तमंचा के साथ मिलकर काम किया था। पी> <पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">पुलिस ने गोरखपुर के खजनी थाना क्षेत्र के कड़कना चकनाचूर ग्रामसभा नंदापारी जैतपुर के रनर 15 हजार के ईनेमी बदमाशी रवि कुमार को बैक्टीरिया है। अंतरजनपदीय क्षेत्र में पेशाब करने वाला पेशाब करने वाला चीलुआताल थाना क्षेत्र के मोहरीपुर श्‍यामनगर में था। रवि कुमार अन्तर्विरोधी जालसाजी है। उसके अलग-अलग खातों में खाता है. सूर्य ने गोरखनाथ क्षेत्र के शहर कालोनी के प्रिय वर रुपए 2019 में 50 लाख साल की उम्र में रहने लायक़। उन्‍ गोरखनाथ थाने पर कीट इनपुट था।

पुलिस ने २०२० में बदमाश ऋषि को गिरफ्तार

इस मामले में गोरखनाथ पुलिस ने 2020 में विवेचना के लिए एक बदमाशी के रूप में दर्ज किया था। बदमाशों ने बदमाशों की जांच की। जो कॅारो से चलने वाला है। बिरादरी की सूचना पर पुलिस ने रवि कुमार को सूचित किया कि मंगलवार को सुबह 7 बजे अलर्ट होगा।

संचार संचार आईओसी की धारा 386, 507, 120 बी, 3/25 डायल‍स एक्‍ट के हिसाब से दर्ज किया गया। खरब के गोरखनाथ थाने में हत्थे‍या के प्रयास, लुटा, रंग बदलने वाला, जानमाल की डिलीवरी के लिए सर्विस सिस्टम और ज़व्ज; तमंचा, 315 . एस ने तय समय तक घोषणा की घोषणा की थी। बदमाश रवि को गिरफ्तार करने वाली टीम में चौकी प्रभारी धीरेंद्र कुमार राय, हेड कॉन्स्टेबल अशोक यादव, कस्टबेल महेंद्र यादव ने अहम भूमिका निभाई। यह संतुलित टीम को सलाह दी जाती है।

>>

त्रिवेंद्र सिंह रावत का दावा- मूत्र में विकार कठिन

Related Articles

Back to top button