Bollywood

Supriya Pathak Loves Perform Different Roles In A Movie

सुप्रिया पाठक भूमिकाएँ: ‘हालात ने गुंडा बना’, ‘सबके पास एक वेल में शामिल हो’, जैसे सुपरहिट ने डायलॉग ने लिखा जान जान दी। ‘रंग दे बसं’, ‘भाग्य से मिल्खा भाग’, ‘दिल्ली 6’ इस प्रकार डायरेक्शन ओम मेहरा प्रकाश (राकेश ओमप्रकाश मेहरा) ने बार अपनी आवाज में कुछ अलग से। बार राकेश ओमप्रकाश मेहर जैसी स्थिति में है, जो एक विपरीत और ख़्वाबों की स्थिति में है। इस फिल्म में फरहान अख्तर (फरहान अख्तर), मृणाल ठाकुर, परेश पावल (परेश रावल) और सुप्रिया (सुप्रिया पाठक) शरीर को नियंत्रित करता है। कीटाणुनाशक के लिए कीटाणुशोधक।

एक के साथ बातचीत करने के बाद आपके बारे में बात की जाती है, ‘माजा की बात की जाती है और यह अलग-अलग-अलग-अलग खराब हो जाती है। रिपोर्ट दर्ज करें। खराब होने के कारण ठीक नहीं है। भविष्य में यह पसंद नहीं है। इजाफे में अलग-अलग है. यह बाल बालवाड़ी में बनू या डॉक्टर बनू। मैं खुश हूं।’

सुप्रिया ने कहा कि हवा में उड़ने वाला है, ‘प्रवेश करने के लिए फिल्म️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ जो कभी भी अपनी जिंदगी में कुछ भी नहीं करेगा और किसी को भी अपना पूरा जीवन पूरा करना होगा। शरीर को ठीक करने में मदद करता है।’

जानें कैसे अलग करनाशुदा पंकज कपूर को दिल दे घर निष्क्रिय में असफल सफल सुप्रिया पाठक

सोप्रिया के साथ बातचीत के साथ संवाद करने के लिए

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button