Panchaang Puraan

बिना विराग के सुमिरन नहीं संभव

अगर हम विश्लेषण करते हैं, तो वैराग्य होना चाहिए। राग-द्वेष को मिटाने के बाद, मन को निरमल बनाने का कार्य, फिर सुमिरन का चमत्कारी दृश्य। मन में सुमिरन का अमृतरस बरगद और मन… .

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button