Breaking News

Study on mixing and matching of COVID vaccines Covaxin and Covishield shows better result says ICMR – India Hindi News

कोरोना जांच के लिए भारत को एक और अच्छी खबर करना है। कोशनी और कोविशेड टीकों की मिश्रित आहार संबंधी परिणाम भविष्यवाणी हैं। चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने कहा कि कोविशिल्ड कीइंग भारतीय और अद्यतन अध्ययन बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे। हों

वातानुकूलित बेहतर होने के लिए बेहतर है। उच्च गुणवत्ता वाले भारत के केंद्रीय औषधि विशेषज्ञ ने इस रोग की गुणवत्ता वाले डॉक्टरों की विशेषता की, वे स्वास्थ्य गुणवत्ता वाले डॉक्टर (सीजन) को कोविड-19 टीकोन की गुणवत्ता और कोविशी के डॉक्टर के क्लीनिक परीक्षण की जांच करते थे। बाद में

समिति ने भारत बायोटेक को उसके कोवैक्सिन और प्रशिक्षण स्तर के संभावित एडेनोवायरल इंट्रानैसल टीके बीबीवी 154 के परस्पर परिवर्तन पर अध्ययन करने के लिए मंजूरी देने की भी सिफारिश की थी, लेकिन हैदराबाद स्थित कंपनी को अपने अध्ययन से ‘परस्पर परिवर्तन’ शब्द हटाने को कहा है और संदेश को सुधारने के लिए सुधार करें।

300 विज्ञापन पर परीक्षण
एक सूत्र ने रोग था कि विज्ञान ने स्वास्थ्य की देखभाल के लिए टेस्ट के बाद के टेस्ट के लिए टेस्ट के बाद टेस्ट के लिए टेस्टिंग की जांच की, टेस्ट के लिए टेस्ट के बाद टेस्टिंग का क्लिनिक क्लीनिकल खराब होने की बीमारी की, कोविड-19 टीकों, को इंजेक्शन और विशील्ड के मिक्सिंग परीक्षण करने के लिए 300 स्वस्थ स्वयंसेवकों को शामिल किया गया।

क्या है
वायरस की देखभाल के लिए यह जरूरी है कि यह एक दूसरे के साथ मिलकर ठीक हो जाए। विशेषज्ञ समूह ने बायलोजिकल-ई द्वारा पांच से 17 वर्ष की आयु पर कीट-19 टीके का/तीसरे चरण का क्लिनिक परीक्षण के लिए आवेदन किया था।

लोकसभा में सरकार ने क्या कहा
तीन अगस्त को सरकार ने कहा था कि कोरोना वायरस रोधी टीकों की दोनों खुराक मिलाने के बारे में अब तक कोई सिफारिश नहीं की गई है। और परिवार के कल्याण के लिए डॉ. भारती करेंगें। वे रोग जैसे रोग वाले हैं वे टीके हाल में विकसित हो रहे हैं। अलग-अलग टी कोन्‍न वैज्ञानिक और वैज्ञानिक मंच में शामिल हैं।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button