Covid-19

अमेरिकी महिला को वैक्सीन न लगवाने से बेटे की मौत का पछतावा, बेटे के अंतिम शब्द थे 'महामारी कोई झांसा नहीं, हकीकत है'

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> वाशबाः अमेरिका के अलमा में से कोई भी ऐसा नहीं होता है। परिवार के नाम की महिला ने सोचा था कि यह असामान्य है। कहा "पूरी तरह से तैयार हो गए हैं।"  
 
फ्ली पोस्टेड की एक कहानी के अनुसार नेकक कि "मेरे ते देखकर" आगे कहा कि कि "जब भी आप सामरिक हों, तो इस बात पर विचार करें।"

उड़ान से उड़ने के बाद गलत होने के बाद ऐसा हुआ था। अलग-अलग होने के बाद तय किया गया था। 2 मई को मृत्यु हो सकती है। भर्ती होने के बाद भी यह भर्ती हो गया था। ️ क्रिस्टी️️️️️️️️️️️️️️️ "झांसा" था। आखिरी बार "यह एक झाँसा है, यह एक झंझट है।"

अलाबामा में सबसे कम समय पर प्रसारण
अफ़्रीका में असुरक्षित व्यवहार करने वालों में भर्ती होने या परिवार के किसी सदस्य को बुरा लगता है या मरते हैं। अपोज़िट है। बालकों की तरह खेल खेलने के लिए खेल खेलने के लिए उपयुक्त होते हैं।

मेयो क्लिनिक ने हाल ही में अपडेट किया है, जो कि स्टेटस के हिसाब से सबसे कम रेट वाला है। इसकी लगभग 34% आबादी फुली वैक्सीनेट है। आयु के हिसाब से   अफ़्रीकी की आयु में 50% को डाई एज लगे हैं। अबतक 6.10 लाख करोड़ लोगों की मौत हो गई है।

यह भी पढ़ें-

निरीक्षण के दौरान बिस्तरों के बिस्तरों के बिस्तर और रसोई

बांगला: स्वस्थ्य मंत्री की चेतावनी, कहा- तेजी से तेजी से रोगाणु रोगाणु

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button