Education

भारत को सोने की चिड़िया क्यों कहा जाता था?

bharat ko sone ki chidiya kab kaha jata tha

नमस्कार दोस्तो, आपने अक्सर अपने बचपन के अंतर्गत किताबों के अंतर्गत तो जरूर पढ़ा होगा, कि भारत को प्राचीन समय में सोने की चिड़िया कहा जाता था, (bharat ko sone ki chidiya kyon kaha jata hai), या फिर आपने कहीं ना कहीं तो इस विषय के बारे में जरूर सुना होगा। दोस्तों क्या आप जानते है, कि भारत को सोने की चिड़िया क्यों कहा जाता था। यदि आपको इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है, तथा आप इसके बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आज की इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको इस विषय के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताने वाले हैं कि भारत को सोने की चिड़िया क्यों कहा जाता था, (bharat ko sone ki chidiya kisne kaha tha), हम आपको इस विषय से जुड़ी लगभग हर एक जानकारी इस पोस्ट के अंतर्गत शेयर करने वाले हैं। तो ऐसे में आज का की यह पोस्ट आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाली है, तो इसको अंत जरूर पढ़िए।

भारत को सोने की चिड़िया क्यों कहा जाता था? | bharat ko sone ki chidiya kyon kaha jata hai

bharat ko sone ki chidiya kyon kaha gaya hai

अगर दोस्तों आपके मन में भी यह सवाल है, कि भारत को सोने की चिड़िया क्यों कहा जाता था, तो आज हम आपके साथ कुछ ऐसे तथ्य शेयर करने वाले हैं, जिसके बाद आपको यह यकीन हो जाने वाला है कि प्राचीन समय में भारत भी एक सोने की चिड़िया था।

1. अगर दोस्तों सन 1739 की बात की जाए, तो उस समय पर सिया के राजा नादिर शाह ने दिल्ली पर हमला किया था, तथा दिल्ली से काफी सोना लूट कर ले गए थे। और ऐसा माना चाहता है कि उस समय के बाद 3 साल तक पर्शिया के अंतर्गत किसी भी व्यक्ति ने टैक्स नहीं दिया था।

2. जैसा कि आपको पता होगा कि मुगल काल के अंतर्गत शाहजहां ने भारत पर काफी लंबे समय तक राज किया था, तथा शाहजहां के सोने के लिए एक तत्व बनाया जाता था, तथा इसके बारे में यह कहा जाता है, कि इस तथ्य के अंतर्गत एक लाख तोला सोना का इस्तेमाल किया जाता था।

3. आपने ताजमहल को तो जरूर देखा होगा, जो एक काफी बड़ी तथा काफी विशाल इमारत है। जैसा कि आपको पता होगा कि इसका निर्माण सांझा के द्वारा किया गया था लेकिन इसके बारे में खास बात यह है, कि सांझा एक समय इसका निर्माण सोने से करवाने का सोच रहे थे, क्योंकि भारत में सोना बहुत अधिक था।

दोस्तों इसके अलावा भी अनेक ऐसे किस्से हैं जो इस बात की ओर इशारा करते हैं, भारत प्राचीन समय में एक सोने की चिड़िया था।

भारत के पास से सोना कहां से आया था?

दोस्तो बहुत से सवाल होता है कि भारत के अंतर्गत यह सोना कहां से आया था क्योंकि भारत के अंतर्गत सोने की बहुत ही कम खदानें मौजूद है दुनिया के अंतर्गत सबसे ज्यादा सोने की खदान साउथ अफ्रीका के अंतर्गत मौजूद है लेकिन फिर भी भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था, इसके पीछे का मुख्य कारण यह था, कि भारत के पास ही है, सोना मसाले और सिल्क जैसा समान बेचकर आया था।

भारत के अंतर्गत प्राचीन समय में मसालों की खेती काफी ज्यादा की जाती थी। तो ऐसे में कह सकते हैं कि भारत के पास यह सोना की चिड़िया व्यापार करके आया था, तथा इसका मुख्य आधार भारत की खेती था।

Also read:

आज आपने क्या सीखा

तो आज की इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि भारत को सोने की चिड़िया क्यों कहा जाता था, (bharat ko sone ki chidiya kisne banaya), हमने आपको इस पोस्ट के अंतर्गत के विषय से जुड़ी लगभग हर एक जानकारी को देने का प्रयास किया है। इसके अलावा हमने आपके साथ इस पोस्ट के अंतर्गत भारत के सोने की चिड़िया कहे जाने से जुड़ी अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां भी शेयर की है, जैसे कि भारत को सोने की चिड़िया क्यों कहा जाता था, कौन से ऐसे कारण थे, जिस कारण भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था, इसके अलावा भारत के अंतर्गत प्राचीन समय में यह इतना सारा सोना कहां से आया था।

आज की इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको इस विषय से जुड़ी लगभग हर एक जानकारी को देने का प्रयास किया है। हमें उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा दी गई यह इंफॉर्मेशन पसंद आई है, तथा आपको इस पोस्ट के माध्यम से कुछ नया जानने को मिला है। इस पोस्ट को सोशल मीडिया के माध्यम से आगे शेयर जरूर करें, तथा इस विषय के बारे में अपनी राय हमें नीचे कमेंट में जरूर बताएं

FAQ

भारत को किस युग में सोने की चिड़िया कहा जाता था?

प्राचीन भारत (3000 ईसा पूर्व से 10वीं शताब्दी ईस्वी तक) वह काल है जब भारत को स्वर्ण गौरैया के रूप में जाना जाता था। इस युग में मौर्य, शुंग, कुषाण, गुप्त आदि जैसे कई लोकप्रिय राजवंश देखे गए।

प्राचीन काल में भारत को क्या कहा जाता है?

प्राचीनकाल से भारतभूमि के अलग-अलग नाम रहे हैं मसलन जम्बूद्वीप, भारतखण्ड, हिमवर्ष, अजनाभवर्ष, भारतवर्ष, आर्यावर्त, हिन्द, हिन्दुस्तान और इंडिया.

भारत का असली नाम क्या है?

भारत, आधिकारिक तौर पर भारत गणराज्य (हिंदी: भारत गणराज्य), दक्षिण एशिया का एक देश है। यह क्षेत्रफल के हिसाब से सातवां सबसे बड़ा देश, दूसरा सबसे अधिक आबादी वाला देश और दुनिया में सबसे अधिक आबादी वाला लोकतंत्र है।

Related Articles

Back to top button