Panchaang Puraan

shukra mangal shani budh surya guru yuti horoscope rashifal future predictions lucky zodiac signs – Astrology in Hindi – शुक्र- मंगल, शनि-बुध, सूर्य

इस समय शुक्र और मंगल धनु राशियों की गणना करते हैं। शनि और मकर राशि में हैं। सूर्य और गुरु कुंभ राशि में गोचर होते हैं। शुक्र- मंगल, शनि-बुध, सूर्य- गुरु की योति से कुछ राशियों को आनंद प्राप्त हो रहा है। ज्योतिष की युति के शुभ प्रभाव से इन राशियों का सोया हुआ भाग्य तय हो गया है। शुक्र सभी शुक्र- मंगल, शनि-बुध, सूर्य- गुरु की युति का राशियों पर प्रभाव। मीन से मीन मीन राशि तक का हाल…

मीन राशि- वाणी के प्रभाव में वृद्धि। नौकरी में बदलाव के मार्ग बनेंगे, स्थान परिवर्तन हो सकता है। परिवार सुखों में।

वृष राशि- माता-पिता का. संबंध के साथ। वाहन सुख में वृद्धि। परिवार के साथ यात्रा कर सकते हैं।

कुंभ राशि में अस्त-व्यस्त देवगुरु, इन 6 राशियों का भाग्य उदय, बच्चन चमकने वाला भाग्य का

मिथुन राशि- मित्रों का समर्थक। नौकरी में सुधार के उपाय. परिवर्तन में भी हो सकता है।

कर्क राशि- मन शान्त। कुटुंब-परिवार में सहायक/मांगिक कार्य कर सकते हैं। भवन के खर्च में वृद्धि।

सिंह राशि- मन शान्त व प्रसन्नता। परिवार की सुविधा-सुविधाओं का ध्यान रखें। वृद्धि में वृद्धि। सुख में वृद्धि हो सकती है।

कन्या राशि- व्यापार की स्थिति संतोषजनक। आय में वृद्धि। सुस्वादु खानपान में रुचि रखते हैं। शैक्षणिक में सफलता।

सूर्य देव की कृपा से आने वाले 10 इन राशियों के लिए शुभ, हर

तू राशि- मं की सेहत्त में सुधार होगा। संचार में व्यस्तता। नौकरी में सलाहकार। कमरे में

वृश्चिक राशि- तंदुरुस्ती व्यवस्था। परिवार के साथ यात्रा पर जाने का कार्यक्रम बन सकता है। माता-पिता से अर्थव्यवस्था भी मिल रही है।

धनु राशि- बचाव में है। किसी मित्र से वाद-विवाद से भिन्न। बौद्धिकता से बढ़ रहा है।

27 फरवरी से इन 5 राशियों की माँ का भाग्य उदय होगा, लक्ष्मी की कृपा होगी

मकर राशि- मन की स्थिति। विदेशी व्यापार में वृद्धि हो सकती है। लाभ में वृद्धि। धन की स्थिति में सुधार होगा।

कुंभ राशि- संयत। नौकरी में बेहतर समय मिल सकता है। आय में वृद्धि। संतान से लेकर समाचार मिल रहा है।

मीन राशि- मनोभ्रंश, फिर भी संचार में। वस्त्र खर्च बढ़ाना। घर-परिवार में काम करता है।

(इस जानकारी में पूरी जानकारी शामिल है।)

Related Articles

Back to top button