Crime

Shraddha Murder Case security tightened outside Aaftab Amin Poonawalla barrack in Tihar Jail

ऐप पर पढ़ें

श्रद्धा हत्याकांड (श्रद्धा हत्याकांड) के आस-पास आफताब आमीन पूनावाला का गुरुवार को दिल्ली की रोहिणी स्थित डॉ. आंबेडकर अस्पताल में नार्को का परीक्षण किया गया। अब आफताब का पोस्ट नार्को टेस्ट किया जा रहा है। इस बीच तिहाड़ जेल प्रशासन ने आफताब की बैरक की सुरक्षा बढ़ा दी है, क्योंकि फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी, एफएसएल) की चार सदस्यीय टीम ‘पोस्ट-नार्को टेस्ट’ के लिए तिहाड़ पहुंचती है। यह चार सदस्यीय टीम ‘पोस्ट-नार्को टेस्ट’ करने के लिए सेंट्रल जेल का दौरा कर रही है।

वैसे भी दिल्ली के रोहिणी में फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (FSL) के बाहर आफताब को ले जा रही जेल वैन पर हुए फैसलों के बाद जेल अधिकारी विशेष सावधानी बरत रहे हैं। आफताब की बैरक के बाहर एक अतिरिक्त गार्ड भी लगाया गया है। बता दें कि दिल्ली की एक अदालत की ओर से 13 दिनों का चालान अभियोग में जाने के बाद आफताब को तितिहार जेल की जेल संख्या 4 के सेल नंबर 15 में रखा गया है। यह एक समान सुरक्षित सेल में देखा जाता है। बता दें कि जेल नंबर चार में पहली बार अपराधियों को पकड़ा जाता है।

जेल प्रशासन ने बताया कि जेल के अंदर भी आफताब पर खतरे को देखते हुए उसकी क्षमता के आसपास विशेष रूप से निगरानी रखी जा रही है। आफताब के साथ चोरी के एक विचाराधीन मामले में दो निचली अदालतों को एक ही सेल में रखा गया है। इसी के साथ आफताब पर नजर रखने को कहा गया है। सूत्र का कहना है कि आफताब इन कैद से ज्यादा बात नहीं कर रहा है। दिल्ली में फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) कार्यालय के बाहर के हमलों के बाद आफताब की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह व्यवस्था की गई थी। आफताब पर पहल से भी नजर रखी जा रही है।

आफताब पर अपने लिव-इन पार्टनर श्रद्धा की गला दबाकर हत्या करने और उसके शरीर के 35 टुकड़े करने का आरोप है। पुलिस की निशानी तो श्रद्धा की हत्या करने और उसके शरीर के 35 टुकड़े करने की बात कबूल करने वाला आफताब सवालों के भ्रम का जवाब दे रहा है। दिल्ली पुलिस इस बारे में अदालत से भी अंजान है। दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में कहा था कि आफताब गलत जानकारी दे रहा है। इसी के साथ जांच-पड़ताल कर रहा है।

Related Articles

Back to top button