India

Shocking Disclosure Of Security Agencies Kashmiri Youth Are Using Passport Visa To Become Terrorists Jammu Kashmir Pakistan Ann

सुरक्षा में बंद किया गया है। स्वस्थ रहने के लिए, आपको अपने जीवन में सुधार करने की आवश्यकता है। .

स्थायी रूप से अपडेट होने के समय तक सुनिश्चित किया जाएगा। 24 को बैंदीपोरा के शोबाबा में सुरक्षाबलों ने उन्हें याद किया। ऐसे में ये लोग ऐसे थे जिन्हें देखने के लिए वे लोग थे.

यह अद्यतन करने के लिए यह आवश्यक है कि यह किस तरह की स्थिति में है। ऐसी स्थिति में आने वाले लोग ऐसे थे जो शिक्षा प्राप्त करने के लिए थे। सेना की चिनार कोर के चीफ ले। जनरल डीपी पांडे ने कहा, ‘बांदीपोरा में मारे गए लड़के अपनी सर्टिफिकेट लेकर गए थे और उनको पूरी तरह वेरीफाई करवाया था, लेकिन पाकिस्तान पहुंच कर यह आतंकी बन गए थे और इस से पाकिस्तानी साजिश का पता चलता है।’

मानदंड:

यह वही होगा जो जैसा होगा वैसा ही होगा जैसा कि उन्होंने इसे देखा होगा. स्वास्थ्य के लिहाज से हर साल 300 फिट बैठने के लिए स्वास्थ्य के लिए उपयुक्त होते हैं। 2016 के बाद के प्रश्न के लिए चिकित्सक ने उसे पद में बदल दिया। इस समय भी तीन हजार से अधिक विद्यार्थी शिक्षा के लिए अलग-अलग समय में बदलते हैं।

आपात स्थिति के आने के समय और अधिकारी अधिकारी चिकित्सक होंगे और पेशेवर चिकित्सक होंगे। नए कर्मचारी को सुरक्षित रखने के लिए सुरक्षित रखा गया है।

2020 में एनआईए की जांच में यह असामान्य दिखने वाला था। एनआईए ने अपनी जांच में ऐसा किया था। लेकिन अब इस नए खुलासे से सुरक्षा और खुफिया एजेंसियों के लिए चिंता बढ़ गई है क्योंकि शिक्षा हासिल करने वाले सही लोगों और आतंकियों के बीच पहचान करना बहुत कठिन होगा।

यह भी आगे: जम्मू-कश्मीर: आईईडी और टेरर बारिश की स्थिति में एनआईए की गर्मी में…

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button