Panchaang Puraan

shani sade sati and dhaiya 2022 on which zodiac signs period astrology predictions

किसी भी व्यक्ति के लिए सही सही पानी के साथ कौन सावर्ष होगा और उसके साथ कौन सा व्यक्ति होगा। सन की सहीसाती और ढैय्या की पूरी तरह से मानव जीवन में सुधार हुआ है। ज्योतिष में शनि को पापी और ग्रह कहा गया है। इस मकर राशि, और धनु राशि पर शनि की वैसाती और मिथुन, राशि पर शनि की चाल चलने वाली है। सन 2021 में शनि का परिवर्तन नहीं किया जाएगा, जो इस तरह से इनलाइनों पर लागू होगा। पिछले साल 29 अप्रैल, 2022 को शनि का राशि परिवर्तन होगा। इस शनि ग्रह राशि में प्रवेश करेगा। शनि की राशि परिवर्तन से शनि की सही साती और ढैय्या की शुरुआत हो गई और कुछ राशियों से ओवर हो गया।

मीन राशि पर शनि की सहीसाती शुरू

  • 29 अप्रैल, 2022 को शनि के कुंभ राशि में प्रवेश करने से मीन राशि पर शनि की साती का पहला चरण शुरू हुआ।

15 से इन राशियों का भविष्य, सूर्य देवता की कृपा, धन- भाग्य और भविष्य होगा- सम्मान

कर्क और वृश्चिक राशि पर शुरू होगा शनि की ढैय्या

  • शनि के राशि परिवर्तन से 29 अप्रैल, 2022 से कर्क और वृश्चिक राशि पर शनि ढैय्या शुरू हो जाएगा।

अभी से चुनें ये उपाय

  • हनुमान चालीसा का पाठ

हनुमान जी की पूजा- हनुमान जी की कृपा प्राप्त करने के लिए प्रसन्नता का पाठ करें।

निर्जला एकादशी : कब है निर्जला एकादशी? जानें गण, पूजा-विधि, महत्व, मुहूर्त और सामग्री की सूची सूची

  • शिवलिंग पर

भगवान शिव की कृपा से शैतान के रक्षा कवच पर हमला हो रहा है। शिव को प्रसन्न करने के लिए शिवलिंग पर जलजंग करें। इस समय भोजन करने वाले की जांच करें.

  • शनिदेव और मंत्र का जप करें

शनि देव प्रसन्न के लिए शनिदेव और शनि देव के बीज मंत्र का जाप करें। शनि देव की पूजा- सूर्य से शनिदेव की रक्षा करने के लिए।

.

Related Articles

Back to top button