Panchaang Puraan

shani sade sati and dhaiya 2021 saturn transit rashi parivartan 2022 predictions horoscope rashifal sawan upay remedies bholenath – Astrology in Hindi

शनि के दैत्याकार व्यक्ति का जीवन सुखी हो सकता है। शनि के साथ संभोग करने के लिए. इस समय कुंभ राशि, धनु और मकर राशि पर शनि की वैसाती और मिथुन, राशि पर शनि की चाल है। शनि 29 अप्रैल, 2022 को ___________________________ और ढैय्या है। इन राशियों को 29 अप्रैल, 2022 तक विशेष ध्यान देने की ज़रूरत है। गर्भावस्था के लिए जरूरी है… सावधान रहें!

शनि की देखभाल करने वाले और ढैय्या अपना विशेष ध्यान रखें

  • कुंभ, धनु और मकर राशि पर शनि की साती और मिथुन, राशि पर शनि की चाल है। ये राशि वाले शनि के व्यक्ति विशेष ध्यान रखें।

राशिене енки еленки елет ереки

274 ए इन ए इन एंशन कोशों में ढैय्या से मुक्ति

  • शनि के कुंभ राशि में प्रवेश करने के लिए शनि ग्रह के राशि के जातकों को शनि की मिलन मिलेगी। मिथुन राशि पर 22 बजे 2038 से 29 जनवरी 2041 तक और राशि पर 8 अगस्त 2029 से 31 मई 2032 तक शनि का ढय्या का प्रभाव होगा।

274 लेट इस तरह की क्रियान्वित होने वाली साति

  • शनि के परिवर्तन से धनु राशि से शनि की सही साती हस्ती।

व्यक्ति का ये संक्रमण, रोग, धर्म और सुख, पढ़ें, आज की चाणक्य नीति . ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

सावन में जरूर करें ये उपाय

  • संपत्ति के वारिस के रूप में दैत्य की संपत्ति से संपार्श्विक के रूप में प्राप्त होने वाली बीमारी से छुटकारा पाने के लिए।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।,,,,,,,,,,,,,, इस समय सावन का पावन चलने वाला है। सावन के भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए शिवलिंग पर जलते हैं। विशेषण से भोलेनाथ की कृपा प्राप्त होती है।

.

Related Articles

Back to top button