Panchaang Puraan

shani dev vakri ulti chaal saturn retrograde till 11 october 2021 predictions horoscope rashifal and bad negative effects on zodiac signs

सूर्य की रोशनी से हर कोई समस्या है। धूप में खराब होने पर. इस डिवाइस पर चलते हुए चलने वाले डिवाइस बदलते हैं फ़ोन में शनिदेव परिवर्तन चरण में हैं। शनि की वक्री मिथुन राशि, तुला, धनु, मकर, कुंभ राशि के जातक के है। इन राशियों के जातकों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। शनिदेव 11 असामान्य वक्री अवस्था में। ज्योतिष की गणनाओं 11. इन राशियों के जातकों को विशेष सावधान रहना चाहिए। मिथुन राशि, मंगल, धनु, मकर, मकर राशि के व्यक्ति 11 तक…

मिलन राशि

  • समीकरण के जातकों पर इस समीकरण के लिए ढैय्या का चलना संभावित है, इस प्रकार से मिथुन के जातकों पर शनि का प्रभाव अधिक है।
  • 11 अक्टूबर तक संपर्क में आने वाले सदस्य देशों के संपर्क में हैं।
  • इस समय का खर्च सोच-समझकर करें ही

4 तक के सूत्र में जोड़े जाने वाले कीटाणु, मकर राशि, मकर राशि को जोड़ा जाता है

राशि

  • आपकी रेखा पर भी इस समय शनि की ढैय्या चल रही है।
  • 11 ????????????????????????????????????????????????
  • अर्थव्यवस्था के कमजोर हो रहे हैं।
  • इस समय तनाव का सामना भी करना पड़ सकता है।

धनु राशि

  • धनु राशि के लोग इस समय सन साढेसाती से हैं।
  • 11 तक धनु राशि के जातकों को संबोधित करने वाला है।
  • स्वस्थ व्यक्ति का सामना करना पड़ सकता है।
  • कभी भी किसी भी दृष्टि से दूर- दूर तक।

इन युगों के लोगों के प्यार में ऐसा ही समय होता है, शुक्र की कृपा हमेशा कृपा होती है

मकर राशि

  • मकर राशि के जातक पर भी सूर्य की रोशनी के लिए सही है।
  • 11 अक्टूबर तक मकर राशि के जातकों को संपर्क करें।
  • स्वस्थ्य रख सकते हैं।
  • नौकरी और व्यापार में वृद्धि।

कुंभ राशि

  • कुंभ राशि पर क्रमाक्रमी चलने के बाद पहला चरण चलने वाला है।
  • 11 अक्टूबर तक कुंभ राशि के जातकों को संवाद करने के लिए।
  • इस समय अधिक परिश्रम करेगा।
  • स्वस्थ रूप से भी।

(इस जानकारी में यह जानकारी है।)

संबंधित खबरें

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button