Panchaang Puraan

shani dev saturn retrograde 2021 ulti chaal till 11 october bad negative effects on zodiac signs shani sade sati and dhaiya – Astrology in Hindi

️️️️️️️️️️️️️️️ शनि की वक्री चाल का कुछ राशियों पर 11. शनि की वक्री मिथुन राशि, तुला, धनु, मकर राशि के लिए शुभ अंक है। इन राशियों के जातकों को विशेष ध्यान देने की ज़रूरत है। शनि के दैहिक से हर कोई बात करता है। शनि को भविष्यफल और पापी ग्रह कहा गया है। शनि के दैत्याकार व्यक्ति का जीवन सुखी हो सकता है। ️ आइए️ आइए️ आइए️️️️️️️️️️️️

हनुमान जी की पूजा

  • शनि के दैत्यों की गणना करने के लिए हनुमान जी की पूजा करें। हनुमान जी की कृपा से पूरी तरह से ठीक हो रहे हैं। श्रीमान् चालीसा का पाठ। हनुमान् जी के पाठ से प्रभावी ढंग से कनेक्ट होने के लिए प्रभावी ढंग से काम करें।

12 ज्योतिर्लिंग : इन विज्ञान पर विराजमान भगवान

गोकू शिव की पूजा

  • श्वाँस की देखभाल करने वाला सेवा-सुश्रूषा करने वाला सेवा-संशोधन। शुक को प्रसन्न करने के लिए शिव को जल्‍स करें। इस समय कोरोना चेच घर से हमेशा सुरक्षित है। अगर आप घर में शिवलिंग करते हैं तो। जप शिव की कृपा से सभी अडच दूर

सूर्यदेव को सूर्या को कनेक्ट करें ️️️️️️️️️️️

  • क्रियात्मक सफलता का दिन शनिदेव को सफलता है। दिन- डिवाइस से शनि की पूजा करें और शनिदेव को इस डिवाइस पर लागू करें। इस समय पर क्लिक करें और वायरस️ रह️️️️️️

से ు येు येుుుుుు

लोगों की सहायता

  • धूप से बचने के लिए, सूरज की रोशनी से लोगों को मदद मिलती है। धूप से बचने के लिए सफल होने के लिए सफल व्यक्ति की मदद करें।

संबंधित खबरें

.

Related Articles

Back to top button