Lifestyle

Shani Dev First Saturday Of July 31 Special Yoga Is Being Made For Worship Mithun Rashi Tula Rashi Dhanu Rashi And 5 Zodiac Signs Can Change

शनि देव, महिमा शनि देव की: शनि देव की पूजा का 31 जुलाई 2021, विशेष संयोग बन रहा है। सावन का मंतव्य शिव को सम्मान है। शनि देव शिव के भक्त और उपासक। सप्तमी का दिन शनि देव को समर्पित है। सूर्यास्त के समय शनि देव शांत होते हैं। शनि की स्थिति की दशा में, शनि की स्थिरता और शनि की स्थिति खराब होती है।

5 राशियों पर शनि की दृष्टि है (शनि की दृष्टि)
ज्योतिष की गणना मिथुन राशि, राशि पर शनि की ढैय्या। धनु राशि, मकर राशि और मकर राशि पर स्थित है। इसलिए शनि को शांत करने के लिए इन गेमों के लिए है।

शनि के प्रभावी प्रभाव (शनि के शुभ प्रभाव)
पर्यावरण के अनुकूल होने के लिए आवश्यक हैं। रोग में वृद्धि भी बढ़ रही है। सूर्य होने पर दांपात्य जीवन और लव लव लव्ड हैं। कभी भी अलग होने की स्थिति में हैंै।

सावन का मंथ (सावन 2021)
25 जुलाई से सावन का मौसम शुरू हो रहा है। 26 नवंबर सावन का है। मंगल की पूजा का विशेष महत्व है। 31 नवंबर सस्‍ताह है। सावन में सूर्य की पूजा, शनि को प्रसन्न करने के लिए देवता प्रसन्न होंगे। विशेष बात ये है कि दिन कालाष्टमी भी है। इस दिन का कालभैरव की पूजा की जाती है। गोक कालभैरव, शिव जी के ही शब्द है। इस सूर्य कालभैरव की पूजा से भी शनि देव शान्त होतेते हैं।

शनि के उपाय (शनि के ऊपर)
शनि को सोने के लिए-

  • शनि चालीसा का पाठ
  • शनि मंत्र का जाप करें।
  • शनि आरती का पाठ करें.
  • शनि देव सोम को तेलें.
  • हेल्दी तिल और अनाज का दान।

यह भी आगे:
शनि देव: सूर्य नक्षत्र में शनि देव सूर्य के प्रकाश पर ध्यान दें, इन 5 राशियों पर शनि की दृष्टि है

शनि देव: सावन का पहला सप्तम, मकर राशि और मकर राशि वाले जरूर देखें ये उपाय, शनिदेव स्पर्श

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button