Panchaang Puraan

sawan somwar 2021 puja vidhi shani sade sati and dhaiya calculator remedies upay shiv ji totke shiv panchakar stotra lyrics – Astrology in Hindi

सावन सोमवार 2021: इस समय सावन का पावन चलने वाला है। हिन्दू धर्म में अधिक महत्व है। सावन का माही देवों के देव महादेव को क्रियान्वित है। सावन के हिसाब से कानून- व्यवस्था से शंकर की पूजा-समाधान-. शुक्लु शंकर की कृपाण से सभी प्रकार की शुद्धता के साथ मेल खाने वाले डायल्ग. सुबह जल्दी से जल्दी ठीक हो जाओ। हर साल के लिए शनि के दैत्याकार व्यक्ति का जीवन सुखी हो सकता है। इस मकर, , धनु राशि पर सूर्य की दिशा में चलने वाली चालें चालें और मिथुन राशि पर शनि की ढैय्या चलती है। ️ शनि️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ भगवान शंकर के भक्तों पर शनि का अशुभ प्रभाव नहीं पड़ता है। शनि की देखभाल साती और ढैय्या पूजा के अधिकारी व्यक्ति को सावन के माह में विधि- व्यवस्था से- कृंतक कन्या। सावन के पावन माह में शिवलिंग पर जलसंक शंकर की विशेषता होती है। सावन का महत्व और भी अधिक है। क्रियाकलाप के क्रियाकलापों का प्रभाव शंकर शंकर को क्रियान्वित करना है। सावन के पंखे के मौसम के प्रभाव को देखते हुए इस स्तोत्र का पाठ करें….

मासिक राशिफल 2021: इन राशिफलों का शुभ परिणाम अगस्त का महीना, क्या आप भी शामिल हैं

  • । श्रीशिवपञ्चाक्षरस्तोत्रम्

नागेंद्रचाराय त्रिलोकनय,
भस्माङ्गरागय महेश्वराय।
नित्या शुद्धाय दिग्म्बराय,
तस्मै न कराय नमः शिवाय १॥

सलिलचन्दन निर्धारण अधिकार,
नंदीश्वर प्रमथनाथ महेश्वरी।
मन्दारपुष्प बहुपुष्प सुपूजिताय,
तस्मे मरा नमः शिवाय 2॥

शिवाय गौरीवदनबजवृन्द,
सूर्य दक्षध्व्रनासकाय।
श्रीनीलकण्ठाय वृषध्वजाय,
तस्मे शि काराय नमः शिवाय 3॥

वसिकुंभभवगौतमार्य,
मुनिन्द्रदेवार्चितशेखराई।
चंद्रार्क वैश्वानरलोकनय,
तस्मे व काराय नमः शिवाय 4॥

यक्षस्वरूपाय जटाधराय,
पिनाकहस्तय सनतनाय।
दिव्य देवाय दिग्म्बराय,
तस्मे य काराय नमः शिवाय 5॥

ज्ञान्चाक्षरमिदं पण यः पठेच्छिवसन्निधौ।
शिवलोकमवापनोति शिवेन सह मोदते

.

Related Articles

Back to top button