Panchaang Puraan

sawan shivratri 2021 date time puja vidhi shubh muhurat importance significance vrat paran ka samay – Astrology in Hindi – Sawan Shivratri 2021 : सावन शिवरात्रि कल, यहां देखें शुभ मुहूर्त, पूजा

हर माह तारीख़ को डेट करने वाला खिलाड़ी तिथि निश्चित है। स्वास्थ्यवर्धक गुणकारी सावरात्रि का विशेष महत्व है. ६ अगस्त को. इस दिन विधि-व्यवस्था से इस शंकर और माता- पार्वती की पूजा-अर्चना की जाती है. परिवार के सदस्यों के काम करने वाले व्यक्ति और माता-पिता की देखभाल करने वाले सभी मनोभावों को पूरा करें। सावन शिवरात्रि शुभ मुहूर्त, पूजा-विधि और महत्व…

सावन शिवरात्रि मुहूर्त-

  • सावन मास चतुर्दशी तिथि तिथि- 06 अगस्त, 06 बजकर 28 से
  • सावन मास मंगल तिथि तिथि समाप्त- 07 अगस्त की शाम 07 बजकर 11 पर

बुध, शुक्र और सूर्य परिवर्तन भाग्य

पारण का समय-

  • 07 अगस्त, दिन की सुबह 05 बजकर 46 से सुबह 03 बजकर 45 तक।

महत्व-

  • सावन शिवरात्रि का महत्व अधिक है।
  • इस दिन भी भोलेनाथ और माता पार्वती की पूजा-अर्चना कर रहे हैं.

आने वाले 25 जन्म इन राशियों पर धन-वर्ष, माँ लक्ष्मी ऋग्वेद मेहरबाण

शिवरात्रि पूजा-विधि-

  • जल्दबाजी में उठा लें।
  • धोने के बाद साफ कपड़े पहने।
  • घर के मंदिर में दीप प्रज्वलित करें।
  • अगर हम व्रत करते हैं।
  • भोलेनाथ का गंगा जल से अभिषेक करें।
  • भोलेनाथ को सूचित करें।
  • भगवान गणेश की पूजा भी करें। गणेश की पूजा की व्यवस्था किसी भी शुभ कार्य से की जाती है।
  • गो शिव को भोग भोज। इस बात का पूरा-सुंदर ठीक वैसी ही संतुलित भोजन है।
  • सुक शिव की आरती करें।
  • इस व्यक्ति का अधिक से अधिक ध्यान दें।
  • शिवलिंग में गंगा जल और दुधारुएं।
  • जकू शिव को समाचार पत्र।

शुभ मुहूर्त

  • ब्रह्म मुहूर्त– 04:20 ए एम से 05:03 ए एम
  • अभिजित मुहूर्त- 12:00 पी एम से 12:54 पी एम
  • विजय मुहूर्त – 02:41 पी एम से 03:34 पी एम
  • गोधूलि मुहूर्त– 06:55 पी एम से 07:19 पी एम
  • अमृत ​​काल– 05:42 ए एम, अगस्त 07 से 07:25 ए एम, अगस्त 07
  • निशिता मुहूर्त– 12:06 ए एम, अगस्त 07 से 12:48 ए एम, अगस्त 07
  • सर्वार्थ सिद्धि योग– 06:38 ए एम से 05:46 ए एम, अगस्त 07

संबंधित खबरें

.

Related Articles

Back to top button