Panchaang Puraan

Sakat Chaturthi – Astrology in Hindi

माघ मास में कृष्ण की तिथि तिथि . को श्रीगणेश को समर्पण सकट चौथ का त्योहार है। इस को संकष्टी चतुर्थी, लम्बोदर संकष्टी चतुर्थी, तिलकुट चौथ, तिलकुट चतुर्थी, संकट चौथ, माघी चौथ, तिल चौथ से भी आदि है। मान्यता है कि किस समर्थक करने के लिए संतन्न निरोगी, दीरोज्यु और सुख-समृद्धि से परिक्न होती है। सकट चौथ पर श्रीगणपति की उपासना से दूर दूर हो जाएगा।

इस परिवार की संतान की आयु और परिवार की संतान-समृद्धि के व्रत के लिए हैं। 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏 ज्योतिष . ज्योतिष विद्या के हिसाब से योग सुबह 3:06 बजे तक शुरू होगा। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, शुभंकर के लिए मंगल ग्रह भी 21 मई को सुबह 12 बजकर 11 बजे मंगल से शुरू होगा। सकट चौथ के दिन सुबह 3.06 बजे सौभाग्य योग होता है। प्रभामंडल शोभन योग शुरू हो रहा है, जो 22 बजे सुबह तक होगा। संकष्टी तिथि समाप्त होने की तिथि निश्चित होने के बाद. पूजा के संबंध में.

इस आयख में दी गेक जानकारिता धार्मिक आस्थॉन्ग और लॉकिक मान्यताकार पर आधेरत हैं, जिन्केश सच जन्नरुची को कायन में रखनाकर प्रोस्टुत्त किया है।

.

Related Articles

Back to top button