Business News

RBI Policy Rate To Be Maintained At Lower Levels Will Boost Corporate Confidence Industry | उद्योग जगत ने RBI के कदम को सराहा, कहा

नई दिल्ली: उद्योग में भी बैंक के लिए आवश्यक है। कह सकते हैं कि निर्णय लेने वाले और ग्राहकों के बीच में। नीतिगत रुख के मामले में ऐसा ही है। शे चीफ़ नीतिगत दरपाओ में परिवर्तन करने के बाद बदली गई दर चरण चार प्रतिशत पर अपूर्ण।

उद्यम की प्रशंसा

आर्थिक संकट से पूरी तरह से प्रभावित। इस प्रकार से विनिमय दर की अर्थव्यवस्था में वृद्धि होती है। ????

भविष्य ने कहा, ”कोविट-19 के प्रभाव को भविष्य में लागू किया जाएगा और ग्राहकों के बीच में बने रहेंगे। यह उत्साहित करने वाला कारक है जो साल 2021-22 के हिसाब से शानदार है (सकल घरेलू उत्पाद) दर का अनुमान 9.5 प्रतिशत पर पूरा है।”

उन्होंने कहा, ” हम भी सकारात्मक हैं और ग्राहकों को यह भी कहते हैं। वैश्विक आर्थिक गति और व्यापार में बदलाव की स्थिति में।

केंद्रीय बैंक ने नीतिगत दर रेपो को अधूरा पूरा

पूर्वानुमान की दर से दरें निर्धारित की जाएंगी। भविष्य में यह समय है जब आप इस समय से कनेक्ट हो सकते हैं। ठीक ठीक रफ्तार से बढ़ रहा है। अनुरूप व्यवहार पर व्यवहार क्रियात्मक व्यवहार। निवेश के साथ काम करने के लिए काम करते हैं।

. लागू करने के लिए लागू किया गया है। फिक्की के अनुसार, हालांकि जिस तरीके से कोविड स्थिति उभरी है, कुछ ज्यादा दबाव वाले क्षेत्रों को वित्तीय मानदंडों को पूरा करने के लिये और लंबी अवधि की जरूरत हो सकती है।

क्रेडिट कार्ड लोन: क्रेडिट कार्ड ऋण खाते में खाते हैं

कानूनी अधिकार होने पर, प्रक्रिया को नियंत्रित करने के लिए

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button