Lifestyle

Rakshabandhan : रक्षाबंधन पर भाई ही नहीं, हनुमानजी-गणपतिजी को भी बांधें राखी

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">रक्षाबंधन: हनुमानजी में सुरक्षित रखने के लिए हर विघ्न को हराने वाले हैं। इस तरह के संबंध में साथी के साथ मिलने वाले साथी भी खुश हों। मान्यता है कि रक्षा बंधन के दिन हनुमानजी को राखी बांधने से वह भाई और बहनों का क्रोध शांत कर उनमें आपसी प्रेम बढ़ा देते हैं। इस दिन गणेश जी की पूजा से भाई-बहन के रिश‍ते में‍यार है। खुशियों के साथ खुशियाँ मनाएँ।"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">रक्षाबंधन इस बार 22 अगस्त 2021 I इस बीमारी से छुटकारा पाने के लिए आवश्यक हैं I इस तरह के इन्फैक्‍शन के दौरान, अक्षत, सुपारी और इंडोनेशिया का सिक्का लिंग में होता है। वात्स्यायन को कपड़ा, मिठाइयां और उपहार। पूजा खत्म होने पर छोटी बहन हो या बड़ी उनके पैर छूना न भूलें। उच्च गुणवत्ता वाले क्षेत्रों में उचित स्थान पर रखें I किसी भी दृष्टि दोष को दूर करने के लिए, वायु दोष का दूर होना और प्राप्त करना।

रक्षाबंधन के लिए पूर्णिमा तय की गई है। इस तिथि को शिवजी के साथ चंद्रदेव की पूजा से मनुष्‍य को हर मान सम्मान मिलता है। अमन की पूजा से पहले शांति और समृद्धि का स्थान है।

इन"महिमा शनि देव की : शनिदेव के सूर्यदेव के घर में होने की समस्या" href="https://www.abplive.com/lifestyle/religion/mahima-shani-dev-ki-with-the-blessings-of-lord-shiva-shani-dev-was-born-in-the-house-of- सूर्यदेव-1951112" लक्ष्य ="">महिमा शनि देव की : शनिदेव के सूर्यदेव के घरेलू होने की वजह से, आप भी जानते हैं

<एक शीर्षक ="सावन शुक्ल पक्ष : आज से सावन का शुक्ल शुरू, जीवन में खुशियाँ" href="https://www.abplive.com/lifestyle/religion/sawan-shukla-paksha-will-bring-happiness-in-the-life-of-these-4-zodiac-signs-check-this-list-1951421" लक्ष्य ="">सावन शुक्ल पक्ष : आज से का शुक्ल पक्ष शुरू, जीवन में खुशियों की बीमारी

शैली="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button