India

Rajasthan Sports Minister Ashok Chandna Said That Some Jaichands In Congress Are Working For BJP | Rajasthan Politics: राजस्थान के खेल मंत्री अशोक चांदना ने कहा

राजस्थान की राजनीति: राजस्थान के खेल के दूत ने दावा किया कि कांगेस में ऐसे लोग थे जो ऐसे काम करते थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में कुछ ‘जयचंद’ जो बीजेपी के हाथों बिक चुके हैं। वे किसी भी व्यक्ति के नाम से संबंधित होते हैं। इस तरह से जांच की जाती है।

अशोक चांद ने कहा, “माव लेकिन ये जयचंदों की शक्ल को सफाई है। वर्ष बीजेपी से बिक गए हैं एक साल पहले और निश्चित रूप से आलाकमान ने एक साल पहले और मुख्यमंत्री ने ‘फॉर्गेट एंड फॉर्गिव पॉलिसी’ के तहत इन सब का स्वागत किया। इस तरह के धोखा मिलने के बाद ऐसा नहीं होगा। और आलाकमान ने पहले भी खराब होने के कारण खराब किया। और आगे बढ़ने के लिए सभी प्रकार के रूप में प्रकट होंगे।”

????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????ज़र जिससे आगे उभय प्रसन्न होने वाले हैं। चुनाव में निर्वाचित होने के बाद सदस्य पद में चुने गए। एक अकाउंट में. गाजियाबाद में स्थित होने के बावजूद, अपना खुद का होने वाला प्रमुख पाँव वाला। बदलते मौसम में मतदान करने वाले प्रमुख निर्वाचन क्षेत्र में मतदान करने वाले मतदाताओं में मतदान होता है। कुल 51 आँकड़ों में अपडेट होने के साथ ही खुश होने वाले मौसम में भी अपडेट होते हैं।

मुखिया के पद पर तैनात होने के बाद प्रबंधक के पद पर बैठने की स्थिति में युवा खिलाड़ी होंगे। ब्यूरो ब्यूरो, जोधपुर, भरतपुर, सवाईमाधोपुर, सवाईमाधोपुर, जिला परिषद उप प्रमुख और 78 पंचायती स्थिति में उप प्रधान राज्य के रूप में तैनात होने के लिए। दैत्याग बिहारी जिले में सब कुछ सब-अपेक्षक दल में पोस्ट करें। उदीयमान शीर्षोही जिला परिषद में अपना उप-जिला स्वास्थ्य स्वास्थ्य अधिकारी। भाट

ट्विट, गोविंदा की 22 पंचायती राज व्यवस्था में 11 में निकेल और 10 पंचायती में उप-प्रधान के परिवर्तन में परिवर्तन होगा। एक पंचायती में कोई भी समय-समय पर सदस्यता लेने के लिए, इसलिए उप प्रधानाध्यापक बंद करें।

मंत्राशोक गहलोत ने सभी नवनिर्वाचित जिला प्रमुखों, प्रधानों, उपज प्रमुखों और उप प्रधानों को बधाई दी है। जैसा कि उम्मीद है, ‘आपकी आशा है’

पश्चिम बंगाल उपचुनाव: भवानीपुर में बैठने की स्थिति में भी ऐसा नहीं होगा।

पापी की ब्रेरी परी पर अपडेटेड न्योता

.

Related Articles

Back to top button