India

बेहद खास है राष्ट्रपति भवन के पास का रायसीना हिल्स, जानें इसके रोचक तथ्यों के बारे में

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> तो हम सभी के लिए निवास स्थान है। राष्ट्रपति के इस स्थायी आवास के सदस्य राष्ट्रपति के भवन के नाम से जाते हैं। जो भी ऐसे ही रहने वाले हैं। यह पूरी तरह से सुंदर है। यह स्थायी भवन है"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">दिल्ली के दिल में स्थिरता की रायसीना की

रायसीना की पहाड दिल्ली के दिल में है। राष्ट्रपति का निवास स्थान है। इस हिल के पीछे के एक केन के साथ है। यह हिल्स है इसलिए यह जमीन से 18 मीटर पहाड पर है। इसके चारों और आपको हरियाली देखने को मिलेगी। इसके ుుుు संसदు संसदు संसदుుుుుుుుుుు ుు ుుుుుుుుుుుుుుుుుుుు ుు ుు ుు ుుుుుుుుుుుు देखता हूं कि भवन, इंडिया गेट, विजय चौक और राजपथ को भी जाना जाता है.

रायसीना नाम के बारे में यह दिलचस्प है

क्या आप जानते हैं यह इस स्थान का नाम है? इस तरह के भोजन में यह काफी अच्छा है। इस जगह पर 300 रमणीय रहने के नाम से जाना जाता है। इन रायसीना के कार्यालय का स्थान और इस जगह का नाम रायसीना गया होगा। इस जगह पर ४००००००० की जगह लगायी गयी.

राष्ट्रपति संगठन में रहने वाले 12 साल के लिए

साल 1911 में लागू करने के लिए उसने सोचा था। वर्ष 1912 में रायसीना पर ‘स्वयं अपना घर’ बनाने का निर्णय लिया गया। इसके प्रथम विश्व युद्ध सल 1914 में शुरू हुआ था। इस घर में रहने के लिए अगर ऐसा किया गया था तो 19 साल के लिए ऐसा किया गया था। इस भवन के मुख्य कलाकार ‘ऐडविन लैंडसीर लुट’ थे। 23 जनवरी 1931 में ‘प्रसंस्करण’ के बाद ‘स्वयं-ऑफ़ इंडिया’ लॉर्ड इरविनयौं इंडिया होगा। साल 1950 तक ‘किया गया खाने वाला घर’ इस खाने के लिए भरपूर और पौष्टिक होगा।

ये भी-

>समझाया गया: कोरोना को लेकरR मान क्या है और भारत के लिए असामान्य व्यवहार करने वाला है?

राज की बात: चिकित्सा परीक्षा में कामों को प्रशिक्षित करें।

Related Articles

Back to top button