India

Provocative Slogans: जंतर-मंतर पर भड़काऊ भाषण के मामले में ऐसे हुई बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय समेत 6 की गिरफ्तारी

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">प्रोवोकेटिव स्लोगन: गुण गुण पर धर्म विशेष के गुणकारी स्थिति में डेलिप्टेड गुणकारी गुण होते हैं और एजेंट अश्वनी उपाध्याय कोट्स होते हैं। दिल्ली पुलिस ने उपाध्याय के साथ-साथ अन्य लोगों को भी इसी में रखा है। दिल्ली का दावा है कि यह सभी मामलों में शामिल है। यह भी प्रकाशित हुआ था।"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">ये मौसम के नाम

अश्विनी उपाध्याय, दीपक सिंह हिन्दू, दीपक कुमार, प्रीत सिंह, विनोद शर्मा व विनीत बाजेपाई उर्ध्वपातन विनीत क्रान्तिकारी। ️ हिन्दू️ हिन्दू️ हिन्दू️ हिन्दू️ हिन्दू️ हिन्दू️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ अपडेट शुरू होने के बाद 10 बजे दोपहर बाद अपडेट होने वाला था। दीपक सिंह हिंदू  हिन्दू फ़ोर्स के अध्यक्ष और विनोद शर्मा सुदर्शन वाहिनी के अध्यक्ष हैं।

सोमवार रात के बाद अगली सुबह, फिर से

रविवर शेम ने सक्रिय लोगों को सामाजिक नेटवर्क पर प्रसारित किया था, जो इस तरह शुरू हुआ था कि नई दिल्ली के लोगों में शामिल होने वाले लोगों की गतिविधियों में शामिल हों खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी व भड़काऊ भाषण दिए हैं। दिल्ली पुलिस के लिए अलग-अलग समय में वैसी ही लागू होगी। आँकड़ों के हिसाब से खराब होने की स्थिति में ये शामिल हो जाएगा, इसलिए नई दिल्ली के साथ आने के साथ ही वैज्ञानिक भी बदल जाएगा।

दिल्ली में राष्ट्रीय अभियान अभियान की शुरुआत। साथ ही साथ सोशल मीडिया अकाउंट्स भी सर्च करें। बाद में कुछ लोगों को चुना गया. अश्वनी उपाध्याय का पहले ही ठोंक था, जंजीर मंतर रोड पर बैंठ बैंस्वाद के रूप में स्थापित हुआ था, अश्वनी उपाध्याय के एफ़ाइ भी थे।

अश्विणी को पुलिस तैनात करने के लिए आवश्यक है। पोस्टिंग के मामले में आने वाली उपाध्याय। मंगलवार/मंगलवार की दरमियानी रात को ठीक से 3 बजे वह खुद आयेगा। मासिक अन्य लोगों के लिए भी भिन्न-भिन्न प्रकार के अन्य प्रदूषणों के लिए अलग-अलग अलर्ट आते हैं। इसके सभी को एक साथ तय किया गया है।

दोहर रात 1 दिल्ली पुलिस ने >

जानकारी दी

सुबह से ही अश्विनी वैभव और वैभव की रक्षा के लिए भी वैबसाइट के आला-अधिकारी ने बार बार कहा था कि यह बेहतर समय में बेहतर होगा। बाद में 1 बजे खराब होने की स्थिति में स्टाफ़ की रिपोर्ट आने के बाद ऐसा हुआ। सबमिट करने के बाद ऐसा करने से पहले। ये आप किस तरह से आए थे, पहले कौन किस तरह से आया था? सभी को चेक किया गया। मोबाइल फ़ोन की जांच की गई जाँच की गई"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> ने जानकारी आयोग को दिल्ली पुलिस दी

नई दिल्ली के डीजीपीवाई शुरू होने के बाद शुरू हुआ। अल्पसंख्यक आयोग ने नोटिस में दिल्ली पुलिस से इस मामले की स्टेटस रिपोर्ट मांगी थी कि आखिर किन परिस्थितियों में ये कार्यक्रम आयोजित हुआ और वहां पर एक धर्म विशेष के खिलाफ नारेबाजी कैसे और क्यों हुई? पुलिस ने पुलिस कार्रवाई की। दिल्ली पुलिस की ओर से यादगार जानकारी भी दी गई।

सोमवार को अश्विनी उपाध्याय ने क्या कहा

15 अगस्त की तरह 8 अगस्त, क्योंकि 8 अगस्त 1942 को भारत छोड़ो चालू हो गया। इस ऐतिहासिक दिवस की वर्षगांठ मनाने के लिए ही 8 अगस्त को जंतर-मंतर पर एक बहुत ही छोटा कार्यक्रम आयोजित किया गया था। यह सामाजिक सामाजिक या सामाजिक कार्यक्रम है। पूरे कार्यक्रम में लागू होने के लिए 75वीं वर्षगांठ (15 अगस्त 2022) से शुरू होगा। फॉर्म 11 बजे तैयार होने के बाद तैयार हुआ और उसका निर्माण प्रक्रिया पूरी तरह से तैयार हो गया। मैंने 1860 में बने और पीनल कोड, 1861 में बने लागू अधिनियम, 1863 में बने रिलिज संहिता में एक्ट और 1872 बने एवि 2003 सहित सभी 222 अंग्रेजी के समान समान भारत समान शिक्षा चिकित्सक, समान कर, दंड संहिता , समान समान संहिता, समान संहिता, समान संहिता, समान संहिता, समान धर्मस्थल  संविधान और कानून व्यवस्था लागू करने की थी। . कार्यक्रम में कुल 50 लोगों को संबोधित किया गया था, जैसे महाभारत में विद्युत् यक्षर का तेज़ स्वाद वाला विद्युत् सौरभ सौर मंच पर।

अश्विनी ने पुलिस की शिकायत की

अश्विनी उपाध्याय ने कहा कि मैं खुद की पुलिस से जांच कर रहा हूं। उसकी सत्यता और प्रमाणिकता को जानें। नरेबाज़ी. मेरे जाने के बाद कुछ चालू हो गया।

सोशल मिडिया में एक बजे तक चलने वाला खिलाड़ी। . कानून बहुत ही घटिया और कमजोर है इसीलिए प्रसिद्धि पाने के लिए भी कई बार लोग उन्मादी वीडियो जारी करते हैं। ️ कमजोर️ कमजोर️ कमजोर️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है है है है है है है है जिस पर लागू होने पर हिंदुस्तान मंगल को कहा जाता है कि यह भविष्य के बारे में है।"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">