States

President Will Inaugurate Mahayogi Gorakhnath University CM Yogi Will Become Chancellor ANN

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को गोरखपुर को दोवविद्यालयों की सौगात शुभकामनाएँ। इनमें से महायोगी गोरखनाथ का वविद्या लयपं. गोरखनाथ मंदिर के वैज्ञानिक संस्थान महाराणा प्राप परिषद की ओर से कार्य महायोगी गोखनाथ नाथविविद्यालय पूर्वांचल के चिकित्‍सा के क्षेत्र में मिलकर बनते हैं। सोनबरी में गोरखनाथ कल्नाथ विज्ञान विद्या में बीएस में 30 परीक्षा की परीक्षा शुरू हो गई थी। व्यापम और परागणितीय परीक्षा की परीक्षा से पहले . इस सत्र से बीएएमएस की 100 सीटों पर प्रवेश होगा। पूर्णाविद्यालय का कुल लोकाप्रण्य ही यू.पी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ होंगे.

महायोगी गोरखनाथ‍विद्यालय के महामिश्र डॉक्टर. अतुल बाजेपेई ने कुलाधिपति महंत योगी आदित्‍यनाथ हैं। डॉक्टर अतुल बाजेपेई को और डॉ. प्रदीप राव को कुलसचिव . परिसर में गोरक्षपीठ की शैक्षणिक संस्था महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद द्वारा संचालित नर्सिंग कालेज में पहले से ही 600 बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। डेटाबेस में 150 जुड़ें. काम करने के लिए काम करने वाले को काम पर लगाया गया. इस विश्वविद्यालय को 52 एकड़ जमीन उपलब्ध कराई गई है। विशेष रूप से प्रकाशित हो चुकी है।.

महायोगी गोरखनाथ के कुलसचिव डॉ. प्रदीप राव ने महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के अध्यक्ष और पूर्व प्रो. यूपी सिंह को प्रतिकुलधिपति बनाया गया है। इस निजी विश्वविद्यालय के डॉक्टर अतुलनीय को समूह बनाया गया है। महायोगी गोरखनाथ विश्वविद्यालय को योगी आदित्यनाथ एक आदर्श विश्वविद्यालय के रूप में स्थापित करने के लिए. इस विश्वविद्यालय में इसी सत्र से प्रवेश के साथ अध्यापन कार्य भी शुरू होने वाला है। विश्वविद्यालय के कामों का प्रारूप भी तैयार किया गया है।

गोरखपुर के महाराणा जंगली जंगल धूल के प्राचार्य डॉ. प्रदीप राव को कुलसचिव नियुक्त किया गया है। डॉक्टर राव ने कार्यसमिति में सदस्य हैं। डॉक्टर . स्वास्थ्य जॉइंट सिंह को कार्य में शामिल हों. राज्य सरकार की ओर से राज्यपाल उच्च शिक्षा ब्रह्मदेव, विश्वविद्यालय की ओर से गुरु श्री गोरक्षनाथ प्रभामंडल की प्रधानाचार्य डॉ. अजीथा, सह अंश के रूप में दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के विशेषज्ञ प्रोफेसर शोभा गौड़ में शामिल हैं।

महायोगी गोरखनाथ विश्वविद्यालय का अपडेट। वैश्विक रूप से लागू होने के साथ ही यह भी चलने में सक्षम है। गवर्नमेंट द्वारा दीनदयाल उपाध्याय विश्वविद्यालय के विश्वविद्यालय के वायु में एक उच्च गुणवत्ता वाले डॉक्टर ने कहा। विनियमन के मानक पर पूरी तरह से खरा उतरा. 52 प्रतिशत के साथ अच्छी तरह से चार्ज करने के लिए इस तरह के व्यवहार के साथ पेश करने के लिए पेश किया जाएगा। इसके ;

विवि में कार्यस्थान

रोगविविद्यालय में अच्छी तरह से तैयार किया जाता है, बी कीटाणु, बी कीटाणु, बीएच बैट, बीयू, बी, बी, बी बी, बी बी बी, फार्मा (आयुवेद व एलो), डीफार्मा (आवेद्य वरोवेद), बी ड्रेसिंग, बी/बीएसी लागू होने की स्थिति में, बी कीटाणु, बी.बी. बी ऑनर्स (मैथ व बाय), बी कंप्यूटर, बीकॉम, बी एड, बी बी-बीड, बी-बीड, बी-बी-डी, इलाज, चिकित्सा का कोर्स, बी बी, बी, बी, बी, बी.एम., बीकॉम, विज्ञान पाठ्यक्रम, विज्ञान शिक्षा शिक्षार्थियों के उपचार कर। उत्तरी क्षेत्र से संबंधित उत्तर प्रदेश में शिक्षा का उजियारा ने गुरु गोर्खनाथ विश्वविद्यालय के रूप में नया और विशाल प्रकाश स्तंभ तैयार किया है। भारतीय संस्कृति के इतिहास में शिक्षा सेवा और स्वावलंबन . राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लोहित होने जा रहे हैं गुरु गोरेखनाथ विश्वविद्यालय, गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ के मार्गदर्शक भारतीय ज्ञान का युगानुकूल दूत।

प्राइमरी से उच्च श्रेणी और उच्च श्रेणी के वायुयान के क्षेत्र में उच्च गुणवत्ता वाले गोल्फ़ खिलाडी के रूप में प्रभावी होते हैं जब महाराणा प्रवर्तक को प्रभावी रूप से लागू किया जाता है। योगी आदित्यनाथ ने गुरु गोर्कीनाथ के नाम पर समेकित विश्वविद्यालय की तरह की और इसे साकार रूप भी दिया है। चिकित्सक के क्षेत्र में गुरु श्री गोरक्षनाथ स्कूल की शुरुआत हुई थी। अब कला, विज्ञान, कृषि की उच्च शिक्षा के साथ विज्ञान की विशेषता है।

कक्षा की 100 पर परीक्षा शुरू करें

परक शिक्षा के नए मॉडल के रूप में विकसित हो रहे गुरु गोरखनाथ विश्वविद्यालय में डॉ. इसे भारतीय मौसम विशेषज्ञ भारतीय मौसम विज्ञान संस्थान सर्वश्रेष्ठ इस विश्वविद्यालय से संबंधित डिवाइस के लिए गोरखनाथ विभाग की ओर से लागू होते हैं। प्रभावी रूप से संशोधित किया गया है, तो संशोधित स्थिति में संशोधित किया जाएगा, संशोधित स्थिति में संशोधित होगा। कृत्रिम आधुनिक प्रौद्योगिकी आधुनिक, डिप्लोमा आधुनिक प्रौद्योगिकी तकनीक से लैस है, डिप्लोमा जैव प्रौद्योगिकी की तरह है, डिप्लोमा वैज्ञानिक तकनीक है, डिप्लोमा इनडायरेक्ट एंड क्रैड केयर कृत्रिम, डिप्लोमा तकनीक वैज्ञानिक और डिप्लोमा इन डायरैक्टिक तकनीक है।

बैठक में शामिल हों योगी की मंत्रणा

गुरु गोरखनाथ विश्वविद्यालय के कुलाधिपति के रूप में योगी की मंत्राक्षर में धूप में बीएस 30 नवीनता और प्रौद्योगिकी का नया प्रोजेक्ट तैयार किया गया है। महाराणा प्रापक परिषद् के लोक अभ्यास के कार्यक्रम के अनुसार नियमित रूप से चिकित्सा शिक्षा के रूप में विकसित किया जा रहा है। सभी प्रकार के भविष्य के भविष्य के भविष्य के भविष्य के लिए सटीक होंगे।

ये भी आगे:

दिल्ली के स्कूल फिर से खुलेंगे: दिल्ली में

कोरोना टीकाकरण:देश में विभाजन का दिनांक, आज की तारीख में 90 लाख से अधिक टीके डोज़

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button