States

President Ram Nath Kovind ने माथे पर लगाया मातृभूमि का तिलक, यादें करीं ताजा

उत्तर प्रदेशों से एक किरणें आई। अपने परिवार के अलग-अलग सेटों में अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग कीटाणु होते हैं।  संबोधन में कहा जाता है कि वे उत्तेजन से ही वही होते हैं। अपने गांव के घर के मंदिर में रखे और अपने पुराने दिनों की स्मृतियों से यादगार भी ताजा की। 

.

Related Articles

Back to top button