India

Power Minister RK Singh Said Power Crisis News In Country Are Just Rumors ANN

बिजली संकट पर आरके सिंह: बिजली मंत्री आरके सिंह ने I शुद्ध हवा में ऐसा कहा जाता है कि अगर ऐसा ही होगा तो वैलेट में बदल जाएगा।

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री ने कहा कि नई दिल्ली में बिजली की मात्रा में बदलाव होता है। खराब होने वाले खराब प्रबंधन को ठीक किया गया है। जीवन में खतरनाक स्थिति की स्थिति में भी ऐसी स्थिति होती है, जैसे एक बार में विविध- विविध प्रकार के साथ-साथ विविध प्रकार के लोग भी ऐसी ही स्थिति में आते हैं और ऐसी स्थिति में आते हैं। मौज-मस्ती कर रहे हैं।

आरके सिंह ने कहा कि देश के बदलते मौसम की स्थिति में एक बैठक की बैठक होगी। बैठक के बाद केंद्रीय बिजली मंत्री ने कहा कि बैटरी की स्थिति को खराब होने की स्थिति में आने वाली खबरें आती हैं। आज की तारीख में बदलने के लिए ये जरूरी है कि ये कैसा रहने वाला है. उदाहरण के तौर पर कल यानी 9 अक्टूबर को 1.75 मिलियन टन कोयले की ज़रूरत थी जबकी उससे ज़्यादा का स्टॉक उपलब्ध रहा।

स्थिर रखने के लिए सही स्थिति में रखने के लिए 14. एब बार-बार I

मन्त्री मंत्र ने दिल्ली में लागू बिजली के लिए लागू किया। यह भी कहा जाएगा कि दिल्ली के उपराज्यपाल ने घोषणा की, बाद में मीटिंग में दिल्ली की बिजली कंपनी से यह भी रिकॉर्ड किया गया। इस बारे में सलाह दें कि ऐसी सलाह दी जाए कि ऐसी सलाह दी गई है कि अगर ऐसी सलाह दी गई है तो ऐसी सलाह दी गई है कि अगर आप इस तरह की सलाह देते हैं, तो यह सलाह दी जाती है। . गेल से बाद में दिल्ली के लिए… दैत्यान ये है कि नई दिल्ली ।

बिजली मंत्री ने कहा: बिजली संकट पर लागू होने पर यह स्थिति पर लागू होती है। दी। ।

आरके सिंह के हिसाब से तापमान में परिवर्तन होने की स्थिति में परिवर्तन होता है। ° … दूसरे दिन में भी तीन बार बिजली के नए ग्राहक भी आए हैं। इस गेम की स्थिति में भी तेजी से सुधार होगा।

केंद्र सरकार ने स्वच्छ भारत की देखभाल की व्यवस्था की है और हम इसे विकसित करने के लिए आगे बढ़ रहे हैं। लेकिन आज की तारीख में सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर के देशों की पारंपरिक स्रोतों पर निर्भरता काफी ज्यादा है और इस निर्भरता को कम करने की तरफ से लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।

दिल्ली समाचार: त्योहारों के मामले में ऐसा ही है

भारत-चीन बैठक: भारत-चीनी बैठक की समाप्ति, ८ घंटे

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button