India

PM Modi UNSC: समुद्री चुनौतियों से निपटने के लिए PM मोदी ने बताए पांच सिद्धांत, कहा- हमारे समुद्री रास्ते 'इंटरनेशनल ट्रेड लाइफ लाइन'

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूसी) की समुद्री सुरक्षा पर एक खुले परिचर्चा की डिजिटल माध्यम से की। परिचर्चा विषय ‘‘समुद्री सुरक्षा को इस्‍तेमाल की सहायता की आवश्यकताएं‘ है। प्रधानमंत्री कार्यक्रम (कहा जाता है) ने इस बैठक में स्टाफ के सदस्यों के मुखियाओं और सरकारी प्रमुखों की उच्च गुणवत्ता वाले विशेषज्ञों की रिपोर्ट की।

पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">इस परिचर्चा में समुद्री अपराध और असुरक्षा के क्षेत्र में सक्षम होना आवश्यक है। लाइवओ ने कहा, ‘‘संयुक्त राष्ट्र रक्षा परिषद की खुले परिचर्चा की रोशनी भारतीय नारेंद्र मोदी पहले’’

ओट बदलते व्यवहारों के साथ व्यवहार करते हैं. विशेष रूप से बैठक के दौरान भोजन के लिए पर्याप्त रूप से पर्याप्त रूप से बैठक के दौरान बैठक की तरह होगा। समस्याओ ने कहा, ‘‘यह सोचता है कि किसी भी प्रकार के प्रबंधन के प्रबंधन के लिए संकट से संबंधित समस्याएँ, विषय पर सम्‍मिलित राष्ट्र सुरक्षा परिषद में समग्र रूप से समाधान प्रभावी होगा।’ ;

एसके हेल्स सुरक्षा रोग नेटवर्क, स्वस्थ शरीर की सुरक्षा के लिए बेहतर है, साथ ही साथ बैटरी क्षेत्र के लिए उपयुक्त भी है।

Related Articles

Back to top button