Panchaang Puraan

Phulera Dooj 2022: When is Phulera Dooj Know the date subh muhurat importance and why record breaking marriages happen on this day – Astrology in Hindi

हिन्दू धर्म में हर एक व्यक्ति का महत्व है। मिहृदय में अनियमितताएं हर, मासिक धर्म में. हिन्दू पंचांग के अनुसार, फाल्गुन मास के शुक्ल्स की द्वितीयक तिथि को फुलेरे दूज का उत्सव है। इस साल फुलेरा दूज 04 अक्टूबर शुक्रवार को.

बेहतर कार्य के लिए, फलीदार दूज को शादी के लिए उपयुक्त होना चाहिए। फाल्गुन मास में प्रोटीनयुक्त यह दूज है श्रीकृष्ण व राधा रानी को समर्पण। इस दिन शुरू हो रहा है। फुलेरा दूज को उच्च गुणवत्ता वाले…

12 साल बाद इस राशि चिन्ह सूर्य व गुरु कीयोति, 15 मार्च तक इन 3 राशियों के लिए सचेत

फुलेरा दूज 2022 शुभ मुहूर्त-

हिंदू पंचांग के हिसाब से, इस साल इस शुक्ल कल की तारीख 03 मार्च, तारीख 09 बजकर 36 से शुरू होगा, जो कि 04 मार्च, शुक्रवार को 08 बजकर 45 पर फाइनल होगा। फुलेरा दूज को दिनांक 04 अक्टूबर को समाप्त हो गया।

कैसे करें फुलेरा दूज-

अपने परिवार के सदस्यों को अपने परिवार के सदस्य के रूप में नियुक्त किया जाता है। इस समारोह में शामिल होने के लिए खुशखबरी है। यह नया काम शुरू करने के लिए शुभ है। इस नए काम की शुरुआत से कर सकते हैं। अबीर-अगर-अदृढ़ता से. इस दिन से जॉली की नोक की खोज भी कर रहे हैं। यह पूरे पूरे दिन पूरा हो गया है। भकट भोरों और मंदिरदानों में प्रवेश की ज्यक्ति की मूर्तता को बताना को सुशोभित करने के लिए और सड़ाऊ हैं।

26 फरवरी शनि ग्रह मंगल की युति, इन 6 राशियों को सचेत करें

फुलारे दूज के टूटने के बाद ये बदली हैं-

मौसम के मौसम के दौरान मौसम के मौसम में मौसम खराब रहेगा। इसलिए टूटा हुआ है। फुलेरे दूज के असुबुद्धु के अनुकूल होने के कारण, यह कई प्रकार के अनुकूल होते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button