World

Panjshir resistance forces reject Taliban claim of advances – International news in Hindi – पंजशीर में तालिबान ने किया एंट्री का दावा, अहमद मसूद के लड़ाकों ने कहा

धुर पर काबू पाने के लिए पंजरी की घाटी अब भी अबूझ पहेली है। पंजशीर प्रांत में पूर्व उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह और अहमद मसूद के नेतृत्व में तालिबानी राज का मुकाबला कर रहे नेशनल रेसिस्टेंस फोर्स ने तालिबान के उस दावे का खंडन किया है, जिसमें आतंकी संगठन ने कहा था कि उसके लड़ाके कई दिशाओं से घाटी में प्रवेश कर गए।

टॉलोनो के अनुसार, अहमद मसूद के वर्ण ने पंजशीर की ओर से भी विकसित किया था। रे सीस्ट इंस्टालेशन में बदली हुई स्थिति में परिवर्तन के बाद बोल्ट अलमास जाहिद ने कहा कि पंजशीर में कोई भी व्यक्ति नहीं था।

. शक्तिशाली संचार के एक सदस्य के रूप में सम्‍मिलित हैं, जो किसी भी तरह से प्रभावित होते हैं। इस्‍लामिक्‍स की सेना की चढ़ाई कर से पंजर में प्रवेश करता है।

अरूण कि पंजशीर में अहमद (प्रसिद्ध सुल्तान अहमद शाह मसूद के और दुश्मन के रोग के खिलाफ़ लड़ने वाले) अमरुद और परिवार की रक्षा के लिए एक लड़ाकू विमान की सुरक्षा की योजना बना रहे हैं। हैं। पंजशीर कनेक्ट होने की स्थिति में यह रोग नियंत्रण में है।

कीट से अहमद मसूद और पंजशीर में लड़ा ये लड़ाके नेशनल रेसिस्टेंस फ्रंट के हैं, जो तालिबान द्वारा काबुल की पर कब्जा करने के बाद से एक मजबूत ताकत के रूप में यहां बने हुए हैं।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button